2020 से अप्रैल नहीं जनवरी से शुरू हो सकता है वित्त वर्ष,होगा ये असर!

The Republic India: मोदी सरकार जल्द ही वित्त वर्ष में बड़ा बदलाव करने जा रही है. देश में वित्त वर्ष की शुरुआत अप्रैल के बजाय जनवरी से हो सकती है. अगर ऐसा होता है तो देश में 152 साल से चली आ रही अप्रैल-मार्च की वित्त वर्ष की परंपरा बदल जाएगी. ऐसे में केंद्र सरकार को बजट नवंबर में पेश करना होगा.

फिलहाल देश में 1 अप्रैल से लेकर के 31 मार्च तक वित्त वर्ष होता है. सरकार से लेकर के आरबीआई और अन्य वित्तीय संस्थान भी इसी कैलेंडर का प्रयोग करते हैं. बजट भी इसी वित्त वर्ष को ध्यान में रखते हुए फरवरी के महीने में पेश किया जाता है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष की शुरुआत 2020 से 1 जनवरी से 31 दिसंबर हो सकती है.इससे पहले सरकार बजट पेश करने की तारीख में भी बदलाव कर चुकी है. जहां पहले 28 फरवरी को बजट पेश किया जाता था, वहीं अब 1 फरवरी को इसे पेश किया जाना लगा है.अगर वित्त वर्ष की तारीख में बदलाव होता है तो इससे आम आदमी की जिंदगी पर बहुत ज्यादा असर नहीं होगा, सिर्फ टैक्स प्लानिंग, टैक्स फाइलिंग, कंपनियों के तिमाही नतीजों और शेयर बाजार के लिए वेस्टर्न स्टॉक मार्केट के जैसा पैटर्न और चलन दिखने की उम्मीद है.

  • वित्त वर्ष वित्तीय मामलों में हिसाब के लिए आधार होता है. हर साल 1 अप्रैल से शुरू होकर अगले साल 31 मार्च तक चलने वाली इसकी 12 माह की अवधि वित्तीय वर्ष कही जाती है.
470 Post Views

alok singh jadaun

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

नहीं चुनी चैनलों की पसंदीदा लिस्ट तो टेंसन न लें ,फिरौ चली टी वी ,जानिए कैसे

Thu Jan 24 , 2019
The Republic India : टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI ) ने पसंद के टीवी चैनल्स चुनने और उन्हीं चुनिंदा चैनलों के चार्ज देने की नई व्यवस्था का ऐलान किया है, उसे लागू होने में महज आठ दिन बचे हैं. 1 फरवरी से नई व्यवस्था लागू होने जा रही है, लेकिन […]
नहीं चुनी चैनलों की पसंदीदा लिस्ट तो टेंसन न लें ,फिरौ चली टी वी ,जानिए कैसे


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media