Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / पुलवामा में शहीद हुए 42 जवान, ये रही पूरी लिस्ट…

पुलवामा में शहीद हुए 42 जवान, ये रही पूरी लिस्ट…

जम्‍मू-कश्‍मीर  के पुलवामा में हुए सेना पर सबसे बड़े आतंकी हमले में गुरुवार को 42 जवान शहीद हुए हैं. जैश-ए-मुहम्मद की ओर से अंजाम दिए गए इस हमले में एक आत्मघाती हमलावर ने सीआरपीएफ के एक काफिले में विस्फोटक से भरी गाड़ी भिड़ा दी, जिसमें एक बस में सवार 42 जवान शहीद हो गए. इस […]

जम्‍मू-कश्‍मीर  के पुलवामा में हुए सेना पर सबसे बड़े आतंकी हमले में गुरुवार को 42 जवान शहीद हुए हैं. जैश-ए-मुहम्मद की ओर से अंजाम दिए गए इस हमले में एक आत्मघाती हमलावर ने सीआरपीएफ के एक काफिले में विस्फोटक से भरी गाड़ी भिड़ा दी, जिसमें एक बस में सवार 42 जवान शहीद हो गए.

इस बस में सीआरपीएफ के 44 जवान सवार थे. यह बस सीआरपीएफ की 76वीं बटालियन की थी. इसमें ज्यादातर जवान हेड कॉन्स्टेबल और ट्रेड्समैन रैंक के थे. बस में सवार जवानों की एक लिस्ट सामने आई है, जिसमें बस का नंबर और जवानों के नाम उनके बटालियन नंबर के साथ दर्ज हैं.

बस का नंबर HR 49 F 0637 था. ये जवान सीआरपीएफ की 76वीं, 45वीं, तीसरी, 176वीं, 115वीं, 92वीं, 82वीं, 75वीं, 61वीं, 35वीं, 21वीं, 98वीं, और 118वीं बटालियन के थे. जिस बस को निशाना बनाया गया वह 55 सीटर थी और इसमें 44 जवान सवार थे. ये जवान छुट्टी से लौट रहे थे और ड्यूटी पर जा रहे थे. इस काफिले को एक सप्‍ताह पहले ही ड्यूटी पर तैनात किया जाना था, लेकिन किसी वजह से इनकी तैनाती में देरी हुई थी.

हमले के बाद रिपोर्ट्स आई थीं कि सीआरपीएफ के एक काफिले में 70 से ज्यादा गाड़ियां शामिल थीं, जिनमें 2500 से ज्यादा जवान सवार थे. बता दें कि गुरुवार को पुलवामा में जैश-ए-मुहम्मद के एक आत्मघाती हमलावर ने अवतिंपोरा में नेशनल हाईवे से गुजर रहे सीआरपीएफ के काफिले में शामिल एक ट्रक से विस्फोटक से भरी एक गाड़ी टकरा दी, जिससे बहुत बड़ा धमाका हुआ और इसमें 42 जवान शहीद हो गए.