Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / लालकिले की प्राचीर से पीएम मोदी के भाषण की 5 सबसे बड़ी बातें, फटाफट पढ़ें

लालकिले की प्राचीर से पीएम मोदी के भाषण की 5 सबसे बड़ी बातें, फटाफट पढ़ें

नई दिल्ली।  देश आज 73वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर लाल किले के प्राचीर पर तिरंगा फहराया और देश को संबोधित करते हुए नई सरकार के 10 हफ्ते में किए कार्य और उपलब्धियां गिनाईं. पीएम ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाने से लेकर तीन तलाक […]

नई दिल्ली  देश आज 73वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर लाल किले के प्राचीर पर तिरंगा फहराया और देश को संबोधित करते हुए नई सरकार के 10 हफ्ते में किए कार्य और उपलब्धियां गिनाईं. पीएम ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाने से लेकर तीन तलाक के खिलाफ बनाए गए कानून तक का जिक्र किया. पीएम ने 10 हफ्ते की सरकार की 5 उपलब्धियों को गिनाया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिले से संबोधित करते हुए कहा कि नई सरकार को बने हुए 10 हफ्ते हुए हैं. इतने कम समय में भी हर क्षेत्र में काम किया जा रहा है. देश की जनता ने जिस अपेक्षा से हमें जनादेश दिया है. एक मिनट का विलंब किए बगैर हम सेवा में मगन है.

1. अनुच्छेद 370 और 35A हटाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरे कार्यकाल में सबसे बड़ी उपलब्धि के तौर पर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले को रखा. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से 10 हफ्ते के भीतर ही अनुच्छेद 370 और 35A को हटाना सरदार वल्लभ भाई पटेल के सपनों को साकार करने की दिशा में कदम है. हम समस्या को न टालते हैं और न ही समस्या को पालते हैं. पीएम ने कहा कि जो काम पिछले 70 साल में नहीं हुआ है, उसे करते हुए सरकार बनने के 70 दिन में ही अनुच्छेद 370 को हटाया.

2. तीन तलाक के खिलाफ कानून

PM मोदी ने कहा कि देश की मुस्लिम बेटियां डरी हुई जिंदगी जी रही थीं, भले ही वो तीन तलाक की शिकार नहीं बनी हों लेकिन उनके मन में डर रहता था. तीन तलाक को इस्लामिक देशों ने ही खत्म कर दिया था, तो हमने क्यों नहीं किया. अगर देश में दहेज, भ्रूण हत्या के खिलाफ कानून बना सकते हैं तो तीन तलाक के खिलाफ क्यों नहीं. इसलिए भारतीय संविधान की भावना का आदर करते हुए मुस्लिम महिलाओं को समान अधिकार मिले, हमने इस महत्वपूर्ण फैसले को लिया. यह निर्णय राजनीतिक तराजू से तौलने वाले नहीं होते हैं.

3. आतंकवाद के खिलाफ कानून

लालकिले से पीएम मोदी ने कहा कि हम सबका साथ-सबका विकास का मंत्र लेकर चले थे, लेकिन पांच साल में ये सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास हो गया जो देश की वजह से हुआ है. अब हम संकल्प से सिद्धि की ओर बढ़ रहे हैं. पीएम ने कहा कि देश आतंकवाद के खिलाफ एक साथ लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है. आतंकवाद के खिलाफ आतंक से जुड़े कानूनों में परिवर्तन करने का काम किया है.

 4. किसान को सम्मान

लालकिले से प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे किसान भाई बहनों को प्रधानमंत्री सम्मान निधि के जरिए 90 हजार करोड़ रुपये खाते में ट्रांसफर किए गए. हमने जलसंकट से निपटने के लिए अलग से मंत्रालय बनाया. हम मजदूरों और किसानों को भी पेंशन देने के लिए कदम बढ़ा रहे हैं ताकि देश का किसान भी सम्मान के साथ जी सके.

5. बच्चों के खिलाफ होने वाले अत्याचार के खिलाफ कानून

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में आज डॉक्टरों की जरूरत है और नए कानूनों की भी जरूरत है. आज पूरी दुनिया में बच्चों के साथ अत्याचार हो रहा है, लेकिन हमारी सरकार ने देश में बच्चों के खिलाफ जुल्म करने वालों के खिलाफ कानून बनाया.