Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / जिलाधिकारी के औचक निरीक्षण में सारे झोल की खुल गई पोल

जिलाधिकारी के औचक निरीक्षण में सारे झोल की खुल गई पोल

संवाददाता- अरूण गुप्ता अमेठी। यदि जिले के आला अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन सम्यक रूप से करते रहे तो निश्चित रूप से क्षेत्र एवं जनपदवासी अमन चैन एवं सुख शांति से रह सकेंगे । इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर जनपद अमेठी के जिलाधिकारी अरुण कुमार द्वारा प्रातः जनसुनवाई करने के उपरांत प्रतिदिन कहीं ना […]

संवाददाता- अरूण गुप्ता

अमेठी। यदि जिले के आला अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन सम्यक रूप से करते रहे तो निश्चित रूप से क्षेत्र एवं जनपदवासी अमन चैन एवं सुख शांति से रह सकेंगे । इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर जनपद अमेठी के जिलाधिकारी अरुण कुमार द्वारा प्रातः जनसुनवाई करने के उपरांत प्रतिदिन कहीं ना कहीं विशेष निरीक्षण किया जाता है जिसके चलते जनपद के सभी विभागों एवं कार्यालयों में कर्मचारी सशंकित रहने लगे हैं। इसी क्रम में आज जिलाधिकारी अरुण कुमार ने जामो थाना पहुंचकर थाने का गहनता से निरीक्षण करते हुए कमियों को दुरुस्त करने तथा लापरवाही के लिए कड़ी फटकार लगाई।

जिलाधिकारी अमेठी अरुण कुमार ने आज थाना जामों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने अपराध रजिस्टर, आइजीआरएस रजिस्टर, जनसुनवाई रजिस्टर, शस्त्र निरस्तीकरण रजिस्टर, त्योहार रजिस्टर, एससी/एसटी रजिस्टर, ग्राम अपराध रजिस्टर, माननीय न्यायालय द्वारा भेजे जाने वाला समन रजिस्टर सहित अन्य रजिस्टरों का निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने न्यायालय से निरस्त किए जाने वाले शस्त्र लाइसेंस के तमिले की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने पाया कि शैलेंद्र कुमार सिंह पुत्र राजेंद्र प्रसाद सिंह ग्राम नदियांवा, जामों का 28 जनवरी 2020 को शस्त्र निरस्तीकरण होने के बावजूद अभी तक तामीला नहीं हुआ है, जिस पर उन्होंने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए एसआई साहेब लाल को 3 दिन के अंदर तमिला कराने के निर्देश दिए।

एससी/एसटी रजिस्टर के निरीक्षण के दौरान डीएम ने पाया कि वर्ष 2020 में कुल 3 प्रकरण लंबित हैं, जिस पर डीएम ने विवेचना कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गंभीर अपराध वाले मामलों में जल्द से जल्द विवेचना कर चार्जशीट दाखिल करें जिससे अपराधी को जल्द से जल्द सजा दिलाई जा सके। संगीन अपराध वाले मामलों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके साथ ही पोक्सो एक्ट, एसी/एसटी एक्ट के अंतर्गत जो भी मुकदमा दर्ज किए गए हैं उनकी समय सीमा के अंतर्गत विवेचना कर अपराधियों को सजा दिलायें। इसके बाद डीएम ने माल खाना का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कहा कि थाने में कोई भी पीड़ित व्यक्ति आए उसकी तत्काल समस्या सुनकर उसका निस्तारण किया जाए। इस दौरान एसओ रतन सिंह सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।