Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / हिंदू एवं मुस्लिम दोनों समुदायों के त्यौहारों को देखते हुए अमेठी प्रशासन ने कसी कमर

हिंदू एवं मुस्लिम दोनों समुदायों के त्यौहारों को देखते हुए अमेठी प्रशासन ने कसी कमर

Report : -ARUN GUPTA अमेठी | हिंदू एवं मुस्लिम दोनों समुदायों के आगामी त्यौहार के दृष्टिगत अमेठी प्रशासन ने कमर कस ली है एक तरफ जहां हिंदुओं के गणेश पूजा का त्यौहार चल रहा है वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम समुदाय का 40 दिन तक चलने वाला मोहर्रम का त्यौहार मनाया जा रहा है जिसके तहत प्रशासन […]

Report : -ARUN GUPTA

अमेठी | हिंदू एवं मुस्लिम दोनों समुदायों के आगामी त्यौहार के दृष्टिगत अमेठी प्रशासन ने कमर कस ली है एक तरफ जहां हिंदुओं के गणेश पूजा का त्यौहार चल रहा है वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम समुदाय का 40 दिन तक चलने वाला मोहर्रम का त्यौहार मनाया जा रहा है जिसके तहत प्रशासन के लिए दोनों त्योहारों को सकुशल संपन्न कराने की बड़ी चुनौती सामने है जिस पर अमेठी प्रशासन द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं इसी क्रम में आज अमेठी कस्बे मैं उप जिलाधिकारी अमेठी रामाशंकर तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय द्वारा ड्रोन कैमरा ओं का रिहर्सल किया गया इन्हीं जॉन कैमरों के तहत त्योहारों पर विशेष नजर रखी जाएगी जिससे किसी भी प्रकार की कहीं कोई अप्रिय घटना ना घट सके ।

क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय ने बताया की जैसा कि प्रत्येक त्योहार के पूर्व पीस कमेटी की मीटिंग की जाती है। वैसे ही मोहर्रम के दृष्टिगत मोहर्रम एवं गणेश पूजा एवं प्रतिमा विसर्जन को देखते हुए पीस कमेटी की मीटिंग भी की गई जिसमें प्रत्येक ताजियादार और आयोजनकर्मी तथा गणेश पूजा से संबंधित सभी लोगों से वार्ता हुई ।उसमें कुछ गाइडलाइन होते हैं। कोई विवाद हो उसके बारे में पूछे और उसका समाधान किया जाता है। वह प्रक्रिया पूरी की गई है। इसके अलावा कुछ निर्देश दे दिए जाते हैं ।जैसे कि पंडाल में एक समय कम से कम 2 वालंटियर जरूर मौजूद हो इसी तरह से ताजिए से संबंधित सभी ताजिएदारो का नंबर तथा उनके वॉलिंटियर का संपर्क नंबर लेकर उनसे बात किया जाता है। उनके अपने वालंटियर भी होते हैं। प्रत्येक ताजिए के जुलूस में पुलिस की ड्यूटी भी रहेंगी और पर्याप्त संख्या में ड्यूटी भी लगाई गई है। प्रत्येक ऐसे मोड़ पर या जो रूट है उनमें सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा रहे हैं। इस बार एक नई पहल ड्रोन कैमरे का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। जिससे कस्बे में कड़ी निगरानी रखी जा सके जो हमारी रूफ टॉप ड्यूटी आ हैं। अभी और ज्यादा प्रभावी तरीके से ड्रोन कैमरे के माध्यम से पूरे रूट की निगरानी कर सकें।इसके साथ अतिरिक्त निरोधात्मक कार्यवाही भी की जा रही है। हम लोगों का यही प्रयास है और हम लोग निश्चित रूप से त्यौहार को सकुशल संपन्न कराएंगे। ऐसा सुनिश्चित कराया जाएगा।