होम / अमेठी: शहर की पुलिस सोती है, चोर इनसे ज्यादा जागते हैं तभी तो चोरी को अंजाम दे जाते हैं

अमेठी: शहर की पुलिस सोती है, चोर इनसे ज्यादा जागते हैं तभी तो चोरी को अंजाम दे जाते हैं

Report By: Arun Gupta अमेठी। अमेठी जनपद में चोर और बदमाश दोनों के हौसले बुलंद हो चुके हैं इन दोनों के ऊपर पुलिस किसी भी तरह का लगाम नहीं लगा पा रही है प्रतिदिन कोई न कोई नया मामला सामने आता जा रहा है और पुलिस कुछ भी नहीं कर पा रही है ऐसा ही […]

Report By: Arun Gupta

अमेठी अमेठी जनपद में चोर और बदमाश दोनों के हौसले बुलंद हो चुके हैं इन दोनों के ऊपर पुलिस किसी भी तरह का लगाम नहीं लगा पा रही है प्रतिदिन कोई न कोई नया मामला सामने आता जा रहा है और पुलिस कुछ भी नहीं कर पा रही है ऐसा ही एक मामला आज अमेठी जनपद के संग्रामपुर थाने से आया जहां पर बीती रात लगभग 40 लाख रुपए की चोरी की घटना को चोरों ने अंजाम दिया। मतलब पुलिस सोती रही जनता लुटती रही।

पूरा मामला आपको बता दें की अमेठी जनपद का संग्रामपुर थाना क्षेत्र पिछले 2 दिनों से ताबड़तोड़ चोरियों से देहलू गया जहां पर कल रात्रि में चोरों ने विशेश्वरगंज बाजार के एक दुकान को निशाना बनाया उसी दुकान से एक साथ एक ही व्यक्ति की 3 दुकानें लगी हुई थी जिसमें किराने की दुकान कपड़े की दुकान एवं सर्राफा की दुकान थी जो कि अंदर से तीनों इंटरकनेक्ट थी चोरों द्वारा रात्रि में दुकान का शटर उठाकर वहां से नगद एवं सामान सहित लगभग 18 लाख रुपए पर हाथ साफ किया जहां पर पुलिस पहुंची और फॉर्मेलिटी पूरा कर अपने में मस्त हो गई और रात्रि में चैन की नींद सो गई फिर जैसे रात्रि हुई विशेश्वरगंज बाजार अर्थात पिछली रात्रि को हुई चोरी के घटनास्थल से लगभग 1 किलोमीटर की दूरी पर स्थित गांव पूरे तालुकदार में चोरों ने एक ही रात्रि में तीन घरों को निशाना बनाया जिसमें तीनों घरों को मिलाकर लगभग 40 लाख रुपए के सामान तथा कुछ नकदी उड़ा ले गए। फिर सूचना पर पहुंची पुलिस ने अपनी फॉर्मेलिटी शुरू कर दी और वापस चले गए इस तरह से पुलिस की नाकामी के चलते लगातार दो रातों में अमेठी जनपद में लगभग 70 लाख रुपए की चोरी की गई और पुलिस देखती रह गई। वहीं पर पीड़ित ने बताया कि दो घरों मैं बड़ी चोरियों के साथ मेरी मोटरसाइकिल जो घर के बाहर खड़ी थी उसको चोर उठा ले गए पुलिस बिल्कुल निष्क्रिय है पुलिस का कहीं कोई रोल नहीं दिखाई पड़ रहा है जिससे उसका कोई खुलासा हो इसके पहले भी और चोरी हुई थी जिसमें पुलिस पूरी तरह निष्क्रिय है मैं तो यही कहूंगा कि इससे भी पुलिस कहीं किसी भी तरह से खौफ नहीं खा रही है।- राम प्रकाश सिंह (गृहस्वामी)

वीओ – बीती 5 और 6 की रात को चोर आए बाहर के कमरे में खिड़की लगी हुई है ग्रिल भी लगी है ग्रिल तोड़कर तथा शीशे का दरवाजा तोड़कर अंदर घुस गए जहां पर अलमारी रखी हुई थी उसकी चाबी बेड के खाने में रखी हुई थी उसके अंदर खोलकर हमारी लड़की का पूरे सोने का आइटम कुछ हीरे के आइटम भी थे बहू का भी सोने का आइटम था कुछ हीरे का भी आइटम था बेटे की एक हीरे की अंगूठी थी हमारी पत्नी का तमाम सोने का सामान था मेरी लगभग 5-6 अंगूठियां थी उसको लेकर वह गायब हो गए सुबह जब देखा गया तो वह कमरा टूटा हुआ था उसके अंदर सामान बिखरे हुए थे उस कमरे के अंदर हमारी बंदूक थी वह बंदूक पड़ी हुई है लगभग 14 से 15 लाख रुपए का सामान मेरा गया है हमारी शंका किसी पर भी नहीं है लेकिन इतना हम जरूर कहेंगे कि यह कमरा के विषय में बाहर का चाहे जो भी व्यक्ति रहा हो उसको यह जानकारी थी कि इसी कमरे में अलमारी में सारा सामान रखा हुआ है क्योंकि उसी कमरे को ही टारगेट बनाया गया था।- सरोज कुमार सिंह( गृह स्वामी)

वीओ- 6 तारीख को रात्रि में लगभग यह घटना हुई सुबह 6:00 बजे जब बच्चा सो के उठा तो मुझे आकर बताया कि घर में चोरी हो गई है और मैं घर जाकर देखा तो सारा सामान बिखरा पड़ा था अलमारी भी टूटी थी बक्से सब टूटे पड़े थे बक्से और आलमारी से सब्जी और गायब थे सामान सब बिखरा पड़ा था ₹24000 नगद था तथा 18 से 20 तोला सोना इसके साथ डेढ़ से 2 किलो चांदी हमारे पड़ोस में हमारे परिवार के ही हैं सरोज सिंह उनके यहां तो लंबी चोरी हुई है इससे भी ज्यादा है मीडिया वाले आए हैं देख रहे हैं हमारी मिसेज घर पर हैं नहीं मायके गई हैं जब आएंगी तो जो अन्य चीजें होंगी उसको हम सूचित कर देंगे। – शिव बहादुर सिंह (गृहस्वामी)

पुलिस क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय

अमेठी जनपद में हो रही ताबड़तोड़ चोरियों के विषय में बताते हुए पुलिस क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय ने कहा कि पिछले 2 दिनों से संग्रामपुर थाना क्षेत्र में दो चोरिया जरूर हुई है नगर क्षेत्र में ना होकर ग्रामीण क्षेत्र में हुई है। यह थाना संग्रामपुर का प्रकरण है थाना संग्रामपुर में पिछले 2 दिनों में दो जगह से ऐसी सूचना मिली है। जिसमें मुकदमा पंजीकृत किया गया है और फील्ड यूनिट की सहायता ली जा रही है। यह सच है कि इसको हम लोग एक चुनौती की तरह ले रहे हैं ।निश्चित रूप से इस यथाशीघ्र इसको हम लोग वर्कआउट करेंगे।मुकदमा पंजीकृत किया गया है। सभी आवश्यक विधिक कार्यवाही करेंगे। प्रिवेंशन के तौर पर हम लोग ग्राम सुरक्षा समितियों से भी वार्ता कर रहे हैं और पुलिस गश्त को और प्रभावी बनाया जा रहा है। इसके साथ ही क्योंकि जन संसाधन की भी एक लिमिटेशन है। इसलिए ग्राम सुरक्षा समितियों से भी हम लोग सहयोग लेंगे तथा जो भी स्पॉट चिन्हित किए गए हैं। उनमें ग्रस्त की आवृत्ति बढ़ाने की का प्रयास जारी है। अपने जिले की जो बॉर्डर हैं उस पर हम लोग बैरियर लगाकर चेकिंग कर रहे हैं। निश्चित रूप से इसका परिणाम देखने को मिलेगा। अभी आज की ही घटना है। इसकी इसकी तहरीर मिली है f.i.r. लिखी गई है। जो की चोरी की घटना है और अज्ञात में है इसलिए इस पर वर्कआउट किया जाएगा हम लोग निश्चित रूप से शीघ्र ही इसका अनावरण करेंगे।