होम / अमेठी पुलिस की सक्रियता आई काम, हत्या की सुपारी लेने वाला गिरफ्तार

अमेठी पुलिस की सक्रियता आई काम, हत्या की सुपारी लेने वाला गिरफ्तार

संवाददाता- अरूण गुप्ता अमेठी। सामान्यतया घटना और दुर्घटना के बाद ही पुलिस पहुंचती है और कर सक्रिय होती है । किंतु यहां पर मामला कुछ अलग ही है। जहाँ पर अमेठी कोतवाली पुलिस की सक्रियता से हत्या जैसे संगीन अपराध की घटना कारित होने से पहले ही अभियुक्त को पकड़कर सलाखों के पीछे पहुंचाकर अपनी […]

संवाददाता- अरूण गुप्ता

अमेठी। सामान्यतया घटना और दुर्घटना के बाद ही पुलिस पहुंचती है और कर सक्रिय होती है । किंतु यहां पर मामला कुछ अलग ही है। जहाँ पर अमेठी कोतवाली पुलिस की सक्रियता से हत्या जैसे संगीन अपराध की घटना कारित होने से पहले ही अभियुक्त को पकड़कर सलाखों के पीछे पहुंचाकर अपनी काबिलियत को सिद्ध कर दिखाया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ ख्याति गर्ग के निर्देशन तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी अमेठी के मार्गदर्शन में में अमेठी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक श्याम सुंदर एवँ उनकी पूरी टीम कोतवाली क्षेत्र को अपराध तथा अपराधी मुक्त बनाने में दिन रात मुस्तैद है।इसी के क्रम में कोतवाली पुलिस ने हत्या की सुपारी लेने आये तथा हत्या करने वाले व्यक्ति की रैकी कर रहे अंतर्जनपदीय हिस्ट्रीशीटर को रोडवेज बस स्टैंड अमेठी से 1 अदद पिस्टल 2 अदद जिंदा कारतूस 32 बोर तथा 2 अदद मैगजीन के साथ 25000 रुपये नक़द (जो उसे जान से मारने के लिए पेशगी के रूप में मिले थे) के साथ गिरफ्तार कर सुसंगत धाराओं में निरुद्ध करते हुए जेल भेज दिया।

दरअसल आपको बता दें कि अमेठी कोतवाली क्षेत्र स्थित ग्राम पूरे सोहरियन कोरारी गिरिधरशाह निवासी जितेंद्र बहादुर सिंह उर्फ़ राजू सिंह द्वारा कोतवाली अमेठी में लिखित रूप से तहरीर दी गई थी कि एक व्यक्ति जिसका नाम शेरू उर्फ शेरबहादुर सिंह है। उसके द्वारा लगातार मुझे फॉलो किया जा रहा है और वह मेरी रैकी कर रहा है। मुझे उस व्यक्ति पर संदेह है कि वह मेरी हत्या करना चाहता है। वादी की तहरीर पर तत्काल प्रभाव से कोतवाली पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 114/20 धारा 109, 115,120,बी और 506 पंजीकृत करते हुए कार्यवाही शुरू कर दी गई।

इसी के क्रम में दिनांक 29 फरवरी 2020 को मुक्त से प्राप्त सूचना के आधार पर उपर्युक्त मुकदमे में वांछित शेर बहादुर सिंह पुत्र इंद्रजीत सिंह निवासी धौराहरा थाना हंसवर जनपद अंबेडकरनगर को 01अदद अवैध पिस्टल 32 बोर हो 02 अदद जिंदा कारतूस 32 बोर व दो अदद मैगजीन तथा जान से मारने की सुपारी की पेशगी रुपया 25000 नकद के साथ रोडवेज बस स्टैंड गेस्ट हाउस के सामने से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में शेर बहादुर सिंह ने बताया कि मेरी बुआ का घर ग्राम कोरारी गिरिधरशाह में है ।

उनसे गांव के राज उर्फ जितेंद्र सिंह से दुश्मनी है मेरी बुआ के घर वालों ने राज उर्फ जितेंद्र सिंह को जान से मारने की सुपारी पेशगी के रूप में दी थी। गिरफ्तार हुए वांछित अभियुक्त शेर बहादुर सिंह उर्फ शेरू के विषय में जानकारी ली गई तो पता चला कि उक्त अभियुक्त के ऊपर विभिन्न जनपदों अयोध्या, सुलतानपुर तथा अंबेडकरनगर में गैंगेस्टर सहित कई अन्य गम्भीर धाराओं में आधे दर्जन से अधिक मुकदमे पूर्व में दर्ज हैं तथा यह अंबेडकरनगर कोतवाली का हिस्ट्रीशीटर भी है। अमेठी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त को सुसंगत धाराओं में निरुद्ध करते हुए जेल भेज दिया।