बाराबंकी : शिक्षक की भूमिका में नजर आईं राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

REPORT -ABU TALHA

बाराबंकी में शिक्षक की भूमिका में नजर आईं राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, तो जिला प्रशासन ने मीडियाकर्मियों से की बदसलूकी, कवरेज करने से रोका।।।

बाराबंकीराज्यपाल आंनदीबेन पटेल आज बाराबंकी के दौरे पर आईं। लगभग तीन घंटे के दौरे में उन्होंने स्कूल, थाना, आंगनबाड़ी केंद्र, सीएचसी और टीबी रोगियों के इलाज का जायजा लिया। राज्यपाल सबसे पहले जूनियर हाईस्कूल न्योला करसंडा पहुंचीं और 30 मिनट छात्राओं से रूबरू होकर वह थाना मसौली पहुंचीं। थाने के बाद वह सीएचसी और आंगनबाड़ी केंद्र भी गईं। इसके साथ ही उन्होंने महादेवा के ऑडिटोरियम में पहुंचकर टीबी रोगियों से मुलाकात की। आनंदीबेन पटेल ने हादेवा के श्रीलोधेश्वर महादेव मंदिर जाकर जलाभिषेक भी किया। हालांकि उनके दौरे के दौरान मीडियाकर्मियों को दूर रखा गया और डीएम एसपी की तरफ से काफी बदसलूकी भी की गई।

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एक दिवसीय दौरे के तहत बाराबंकी आईं। सबसे पहले वह मसौली ब्लाक के जूनियर हाईस्कूल न्योला करसंडा पहुंचीं। जहां विद्यालय की साफ-सफाई व्यवस्था देखने के बाद वह बच्चों के क्लास रूम में पहुंचीं। क्लास रूम के अंदर राज्यपाल शिक्षक की भूमिका में नजर आईं। उन्होंने कक्षा 6 की छात्राओं से किताबें निकलवाईं और फिर उसे पढ़वाया। इसके अलावा बच्चों को लेकर प्रधानाचार्य से सवाल जवाब किए। बच्चों से मिड डे मील योजना को लेकर भी बातचीत की। उन्होंने कहा कि अगर मन में अविश्वास हो तो कोई काम नामुमकिन नही है। गवर्नर ने छात्रों के साथ सेल्फी भी ली। स्कूल के बाद राज्यपाल मसौली थाने में पहुंची। गवर्नर ने पुरे थाने परिसर को देखा। उन्होंने सिपाही आवास, मेस, थाना ऑफिस समेत पूरे परिसर का हाल देखा और पुलिस कर्मियों को बेहतर काम करने की नसीहत दी। राज्यपाल बड़ागांव सीएचसीऔर गांव में बने आंगनबाड़ी केंद्र भी गईं। निरीक्षण के बाद राज्यपाल महादेवा ऑडिटोरियम पहुंचीं जहां उनके सामने केंद्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं का प्रस्तुतिकरण किया गया।

राज्यपाल के दौरे के दौरान जिला प्रशासन की काफी अव्यवस्थाएं भी सामने आईं। पुलिस-प्रशासन ने मीडियाकर्मियों से जमकर बदसलूकी की और उन्हें कवरेज से रोका। राज्यपाल जिस समय निरीक्षण पर थीं तो जिले के डीएम, सीडीओ समेत तमाम आलाधिकारी अपने मोबाइल में बिजी थे। वहीं जिस स्कूल में राज्यपाल पहुंची थीं वहां भी गर्मी के चलते कई बच्चे बेहोश हो-होकर गिरे। गर्मी में बच्चों के लिये न तो कोई इंतजाम था और न ही उनके खाने-पीने कोई व्यवस्था।

191 Post Views
The Republic India

alok singh jadaun

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बाराबंकी : ग्रामीण स्वच्छता मिशन की खुली पोल, खुले में शौच करने को मजबूर लोग

Fri Aug 30 , 2019
REPORT -ABU TALHA बाराबंकी : ग्रामीण स्वच्छता मिशन की सिर्फ एक झलक देखना हो तो जनपद बाराबंकी के विकास खंड पूरे डलई  के कार्यालय परिसर में निर्मित दो सामुदायिक शौचालय को देखें जहां पर शौच करना तो दूर आप पेशाब भी नहीं कर सकते. गांव में क्या हाल गांव तो […]
बाराबंकी : ग्रामीण स्वच्छता मिशन की खुली पोल, खुले में शौच करने को मजबूर लोग


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media