Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / दिल्ली दंगों पर जावेद अख्तर की टिप्पणी के खिलाफ केस दर्ज

दिल्ली दंगों पर जावेद अख्तर की टिप्पणी के खिलाफ केस दर्ज

दिल्ली दंगों पर जावेद अख्तर की टिप्पणी के चलते बिहार में उनके खिलाफ दर्ज हुई शिकायत एक स्थानीय वकील ने जावेद अख्तर के खिलाफ राजद्रोह की धारा में शिकायत दर्ज कराई है दिल्ली दंगों पर जावेद ने कहा था कि कई लोग मरे लेकिन पुलिस सिर्फ एक आदमी (ताहिर हुसैन) को ढूंढ रही बेगूसरायपिछले महीने […]

  • दिल्ली दंगों पर जावेद अख्तर की टिप्पणी के चलते बिहार में उनके खिलाफ दर्ज हुई शिकायत
  • एक स्थानीय वकील ने जावेद अख्तर के खिलाफ राजद्रोह की धारा में शिकायत दर्ज कराई है
  • दिल्ली दंगों पर जावेद ने कहा था कि कई लोग मरे लेकिन पुलिस सिर्फ एक आदमी (ताहिर हुसैन) को ढूंढ रही

बेगूसराय
पिछले महीने दिल्ली में हुई दंगों के बारे में गीतकार जावेद अख्तर ने एक टिप्पणी की थी। जावेद अख्तर ने कहा था कि दंगों में कई लोग मरे, घर जलाए गए, दुकान लूटी गई लेकिन पुलिस सिर्फ एक व्यक्ति को ढूंढ रही है, संयोग से उसका नाम ताहिर हुसैन है। इसी को लेकर बिहार के बेगूसराय के रहने वाले एक वकील ने जावेद अख्तर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। जावेद अख्तर के खिलाफ राजद्रोह की धाराओं के तहत शिकायत की गई है।

बेगूसराय के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ठाकुर अमन कुमार की अदालत में बुधवार को स्थानीय वकील अमित कुमार ने परिवाद पत्र दाखिल किया। परिवाद पत्र में जावेद अख्तर के खिलाफ आईपीसी की धारा 124 ए (राजद्रोह), 153 ए (द्वेषपूर्ण बयान) और 153 बी (उपद्रव को उकसाने) के तहत शिकायत दर्ज की गई है। परिवाद पत्र में दिल्ली में हुए दंगे को लेकर मीडिया में जावेद अख्तर की एक टिप्पणी को लेकर आई खबर को आधार बनाया गया है।

मामले में 25 मार्च को होगी अगली सुनवाई
शिकायतकर्ता अमित कुमार ने बताया कि इस शिकायत के आधार पर मामले की अगली सुनवाई 25 मार्च को होगी। उन्होंने कहा कि जावेद अख्तर ने ट्वीट करके कहा था, ‘दिल्ली में कई लोग मारे गए, घर फूंके गए, दुकान लूट ली गई पर पुलिस सिर्फ एक घर को सील कर मालिक को खोज रही है। संयोग से उसका नाम ताहिर है। दिल्ली पुलिस को सलाम।’

वकील अमित कुमार ने कहा है कि इस बयान को पढ़ने के बाद स्पष्ट है कि जावेद अख्तर हिंदुस्तान को जाति, संप्रदाय के नाम पर बांटने की कोशिश कर रहे हैं।