तीसरे दिन भी जल रही दिल्ली, सुध लेने वाले अपने में हैं व्यस्त

तीसरे दिन भी जल रही दिल्ली, सुध लेने वाले अपने में हैं व्यस्त

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लगातार तीसरे दिन भी उपद्रव थमने का नाम नहीं ले रहा है. सोमवार को दिल्ली का माहौल जिस तरह बिगड़ा था उस पर काबू पाने के लिए दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों ने देर रात को भी उत्तर-पूर्वी जिले का दौरा जारी रखा. लेकिन आज सुबह से मौजपुर, बाबरपुर और जाफराबाद इलाके में पथराव की घटना रूक-रूक कर सामने आई हैं. बड़ी बात यह है कि इन इलाकों में पुलिस मौके पर नहीं दिख रही है. मौजपुर में दो वाहनों को आग लगाए जाने की खबर है. गृह मंत्री अमित शाह ने कमिश्नर से बात की है. जानिए हिंसा से जुड़ी 10 बड़ी बातें-

तीसरे दिन भी जल रही दिल्ली, सुध लेने वाले अपने में हैं व्यस्त

1- दिल्ली पुलिस ने बताया है कि अभी भी स्थिति बहुत तनावपूर्ण है. हमें लगातार नॉर्थ ईस्ट दिल्ली से हिंसा की घटनाओं से संबंधित कॉल आ रहे हैं. हिंसा को देखते हुए पुलिस आयुक्त ने कल रात सीलमपुर डीसीपी कार्यालय में एक बैठक की है. हिंसा में दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल समेत पांच लोगों की जान चली गई है.

2- उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में शुरू हुए दंगों को तुरंत काबू करने के लिए उच्चस्तरीय मंथन शुरू हो गया है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तमाम आला हुक्मरानों को इस आपात बैठक में तलब किया है. उधर केंद्रीय गृह सचिव ए.के. भल्ला ने हालात पर कड़ी नजर रखे होने की बात कही है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हिंसाग्रस्त इलाकों के विधायकों की आपात बैठक बुलाई है. दिल्ली सरकार के चीफ सेक्रेटरी और होम सेक्रेटरी भी बैठक में मौजूद होंगे. सुबह 10.30 बजे अरविंद केजरीवाल के घर पर बैठक होगी.

3- सीएए के विरोध में जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे धरने पर बैठी महिलाओं का प्रदर्शन अब भी जारी है. इलाके में भारी तनाव है. आज सुबह-सुबह मौजपुर इलाके में पथराव हुआ. इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने पथराव के बाद आगजनी भी की.

4- हिंसा को देखते हुए आज डीएमआरसी ने दिल्ली के कई मेट्रो स्टेशनों को बंद रखने का फैसला किया है. जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकलपुरी, जोहरी एनक्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन बंद हैं. डीएमआरसी ने बताया है कि पिंक लाईन की सभी मेट्रो ट्रेन्स सिर्फ वेलकम मेट्रो स्टेशन तक ही जाएंगी. बता दें कि जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकलपुरी, जोहरी एनक्लेव और शिवविहार ये सभी मेट्रो स्टेशन वेलकम मेट्रो स्टेशन से आगे पड़ते हैं.

5- दिल्ली में बढ़ती हिंसा की वजह से राज्य के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि 25 फरवरी, 2020 को नॉर्थ ईस्ट दिल्ली जिले के सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद रहेंगे. सिसोदिया ने यह भी कहा कि जिन स्कूलों में परीक्षा आयोजित की जानी थी, उन्हें भी रद्द कर दिया गया है. लेकिन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने एक बयान में कहा है कि सीबीएसई की परीक्षाओं में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा.

6- हिंसा और आगजनी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस ने सोमवार शाम को पूरे उत्तर पूर्वी जिले में धारा 144 लगाए जाने का फरमान जारी कर दिया था. लेकिन देर रात और आधी रात के बाद की बात करें तो उत्तर पूर्वी जिले के अलग-अलग इलाकों में लोग समूह के अंदर नजर आए जबकि धारा 144 के तहत 4 या 4 से ज्यादा लोग एकत्र नहीं हो सकते.

7- दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच को पुलिस आयुक्त की तरफ से साफ निर्देश दिए गए हैं कि मंगलवार सुबह लगभग 7:30 बजे तक क्राइम ब्रांच का तमाम स्टाफ व अधिकारी उत्तर पूर्वी जिले में तैनात किए जाएं. सोमवार को हुई हिंसा को देखते हुए उत्तर पूर्वी जिले में ज्यादा से ज्यादा संख्या में पुलिस की तैनाती करने का निर्णय लिया गया है, क्योंकि राजधानी दिल्ली में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का दौरा भी है. वीआईपी मूवमेंट की वजह से कहीं न कहीं पुलिस स्टाफ की कमी भी पड़ रही है. यही कारण है कि क्राइम ब्रांच जैसी प्रोफेशनल यूनिट को लॉ एंड ऑर्डर सिचुएशन को हैंडल करने के लिए उत्तर पूर्वी जिले में तैनात किया जा रहा है.

तीसरे दिन भी जल रही दिल्ली, सुध लेने वाले अपने में हैं व्यस्त

8- पुलिस सूत्रों के अनुसार सोमवार दिन में मौजपुर, कर्दमपुरी चांद बाग़, भजनपुरा, करावल नगर आदि इलाकों में काफी ज्यादा हिंसा हुई. लोगों ने आमने-सामने आकर पथराव किया. उसके अलावा पुलिस पर भी कई जगहों पर पथराव किया गया. जिस दौरान उपद्रवियों ने पुलिसकर्मियों से उनके सरकारी पिस्टल भी लूट ली. सूत्रों की मानें तो 4 सरकारी पिस्टल गायब होने के मामले सामने आए हैं, इस संबंध में पुलिस जांच कर रही है.

9- पुलिस ने देर रात हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में फ्लैग मार्च किया. इतना ही नहीं एहतियात के तौर पर कई सारे मार्गों को बैरिकेड करके बंद कर दिया गया जिससे कि उपद्रवी भी किसी तरह की हिंसा न कर सके और लोगों के समूह एक दूसरे से न भिड़ें.

10- फायर सर्विस सूत्रों के अनुसार रात भर में 350 से ज्यादा कॉल दिल्ली फायर सर्विस को मिली, जिसमें से लगभग 30 से 35 कॉल ऐसी थी जो आगजनी की घटना से संबंधित पाई गई. ये सभी कॉल गोकुलपुरी, भजनपुरा, मौजपुर जाफराबाद आदि इलाकों से थी.

Ryan Reynold
Piyush Gupta is a writer based in India. When he's not writing about apps, marketing, or tech, you can probably catch him eating ice cream.

You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in Tech