परेशान ना हो, बस 100रूपए में छूट जाएगा गाड़ी का चालान, बस ये तरीका अपनाए

Republic Desk: अगर आपका भी चालान कट गया है, तो आपको डरने की जरुरत नहीं है। दरअसल New Motor Vehicles Act के लागू होने के बाद से ट्रैफिक नियमों (Traffic Rules) को तोड़ने पर 10 गुना तक का ज्यादा जुर्माना भरना पड़ रहा है। हालांकि, कई मामले ऐसे हैं जिनमें आपको भारी-भरकम ट्रैफिक चालान (Traffic Penalities) भरने की जरुरत नहीं है। आज इसी के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं, जहां भारी ट्रैफिक जुर्माना (Traffic Challan) भरने के बजाए आप महज 100 रुपये में बच सकते हैं, लेकिन इसके लिए सबसे जरूरी चीज यह है कि आप ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) के डर से तुरंत चालान न भर दें।

दरअसल जब से नया ट्रैफिक व्हीकल संशोधन एक्ट लागू हुआ है, तब से ट्रैफिक पुलिस की तरफ से लोगों का 1.41 लाख रुपये तक का चालान कटा है। ऐसे में अगर आपका भी चालान कटता है, तो पहले बिल्कुल भी न घबराएं और पहले पता लगाएं कि ट्रैफिक पुलिस की तरफ से आप पर कौन सी धारा तोड़ने का आरोप लगा है।

कोर्ट में चालान भरने का है विकल्प

इसके अलावा सबसे जरूरी बात यह है कि अगर चालान भरना ही है तो आप इसे कोर्ट में जाकर भी भर सकते हैं। यानी यह कहीं भी जरूरी नहीं है कि आपको अपना चालान ट्रैफिक पुलिस को ही भरना है। अब जानते हैं कि आप कैसे 100 रुपये में अपना भारी-भरकम चालान बचा सकते हैं।

100 रुपये में कैसे बचेगा चालान

अगर आपका चालान गाड़ी के किसी कागज के लिए कटता है, तो आप भारी-भरकम चालान से बच सकते हैं। दरअसल कई बार हम जल्दबाजी में अपना पर्स या बैग घर में भूल जाते हैं, जिसने ड्राइविंग लाइसेंस के साथ रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और PUC होता है। ऐसे में अगर आपको ट्रैफिक पुलिस बिना कागज के पकड़ती है, तो आपका लंबा चालान कट सकता है। ऐसे में आप बिल्कुल भी न घबराएं और ट्रैफिक पुलिस को तुंरत जुर्माने की राशि न दें। दरअसल इन मामलों में आपके पास 15 दिनों का समय है, जहां आप कोर्ट के सामने जाकर गाड़ी के कागज दिखा सकते हैं और हजारों के चालान को महज 100 रुपये में बचा सकते हैं। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि इन कागज में इंश्योरेंस पेपर्स, ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, पीयूसी शामिल हैं।

अगर की ये गलती तो नहीं माफ होगा चालान

आपका चालान तभी माफ हो सकता है, अगर चालान से पहले ये पेपर्स बने हो। यानी अगर आपके पास इंश्योरेंस पेपर्स नहीं है, तो आप कोर्ट में 15 दिनों के भीतर इसे दिखाकर बच सकते हैं, लेकिन अगर आपने इंश्योरेंस अपना रिन्यू ही नहीं कराया है, तो आपको चालान भरना पड़ेगा। आप चालान कटने के बाद अगर इसे बनवाते भी है तब भी आपको चालान भरना पड़ेगा।

278 Post Views
The Republic India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मिड-डे-मिल को लेकर शासन सख्त, गड़बड़ी होने पर ग्राम प्रधानों की भी जवाबदेही तय होगी

Thu Sep 12 , 2019
प्रयागराज:  मिड-डे-मिल (एमडीएम) को लेकर शासन बेहद सख्त हो गया है। इस योजना में पंचायती राज विभाग की भी सहभागिता को लेकर मंथन हो रहा है। सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही यह विभाग सक्रिय भूमिका में नजर आएगा। वजह अधिकतर स्कूलों में एमडीएम बनने की व्यवस्था की जिम्मेदारी ग्राम […]


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media