होम / काशी में भी गंगा मईया ने धारण किया रौद्र रूप, NDRF की टीम को किया गया एलर्ट

काशी में भी गंगा मईया ने धारण किया रौद्र रूप, NDRF की टीम को किया गया एलर्ट

Report By: Juniad Khan & Khursid Alam वाराणसी | उत्तराखंड और मध्य प्रदेश के बैराजों से लगातार छोड़े जा रहे पानी की वजह से गंगा उफान पर हैं. काशी में भी गंगा ने रौद्र रूप धारण कर लिया है. नदी का जलस्तर खतरे के निशान को छूने के लिये आतुर है. इसके चलते जिला प्रशासन ने […]

Report By: Juniad Khan & Khursid Alam

वाराणसी | उत्तराखंड और मध्य प्रदेश के बैराजों से लगातार छोड़े जा रहे पानी की वजह से गंगा उफान पर हैं. काशी में भी गंगा ने रौद्र रूप धारण कर लिया है. नदी का जलस्तर खतरे के निशान को छूने के लिये आतुर है. इसके चलते जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है. हेल्पलाइन नंबर 1077 जारी करने के साथ अन्य विभागों में अलर्ट जारी किया गया है। ndrf की टीम को एलर्ट मोड़ पर रखा गया है।

वाराणसी में गंगा का पानी बढ़ने के कारण वरुणा नदी का जलस्तर भी बढ़ा हुआ है जो वरुणा नदी के आस पास रहने वाले लोगों के लिए मुसीबत का सबब बना हुआ है। जलस्तर इस कदर बढ़ा हुआ है कि लोगों के घरों में घुस गया है और लोग पलायन करने को मजबूर हो गए है।

वरुणा नदी के जलस्तर में बढ़ाव के कारण तैयार फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है और लोगों की मेहनत जाया हो गयी है। 100 बीघे से ज्यादा की फसल बाढ़ की चपेट में आने के कारण बरबाद हो गयी। इतना ही नहीं वरुणा नदी के पानी ने अब लोगों की रातों की नींद उड़ा दी है। पानी घरों के अंदर तक पहुंच गया है जिसके कारण लोग पलायन कर रहे है और अपने सर के उपर नयी छत तलाश रहे है।