गोण्डा: गायों और गो वंशों के लिए सबसे बड़ी त्रासदी छुट्टा पशु बने गले की फांस!!

Report By: Mahesh Gupta

गोण्डा  छुट्टा पशुओं से निजात दिलाने के लिए सरकारी दावे और उन दावों की हवा निकालने वाला प्रशानिक तन्त्र मवेशियों की बढ़ती संख्या से प्रतिदिन सड़क दुर्घटना की चपेट में आने मृत पशुओं के शव निस्तारण की समस्या बेहद गम्भीर बनती जा रही है मगर इस विषय पर न कोई पहल होती दिखाई पड़ रही और न कोई ब्यवस्था सुनिश्चित होने का नाम ले रही है।

हालात ऐसे हैं की गोंडा उतरौला मार्ग के मध्य स्थिति कस्बा धानेपुर से पूर्व निकट पावर हाउस तिराहे पर प्रतिदिन सड़क एक दो पशुओं की मौत व राहगीरों के चोटहिल होने की घटना आम हो गयी है राहगीर तो उपचार हेतु हॉस्पिटल पहुंच जाता है किन्तु मृत पशु का शव उठाने को कोई तैयार नही होता जिससे स्थानीय निवासियों को दुर्गन्ध का दंश और छत-विछत पड़े शव को हिंसक पशु पक्षियों द्वारा तितर बितर किये जाने से पर्यावरण दूषित होने के साथ बीमारी फैलाने की सम्भावना बनी रहती है।

विदित रहे की सड़क मार्ग से महज दो किलो मीटर की दूरी पर प्रदेश की प्रथम मॉडल गौ आश्रय केंद्र संचालित है उसके बावजूद भी क्षेत्रीय किसान छुट्टा पशुओं से अपनी फसलें बचाने के लिए उन्हें खदेड़ कर सड़क पर कर जाते हैं।
इन पशुओं का जमावड़ा उक्त परिस्थितियों की वजह बनती रही है।

332 Post Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आज सीएम योगी करेंगे प्रेरणा एप और प्रेरणा वेब पोर्टल लॉन्च, जानिए किसने किया जबर्दस्त समर्थन

Wed Sep 4 , 2019
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षकों और विद्यार्थियों की उपस्थिति से लेकर मीड डे मिल तक निगरानी के लिए तैयार प्रेरणा एप और प्रेरणा वेब पोर्टल लॉन्च करेंगे.  सर्व शिक्षा अभियान के परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने बताया कि […]

Breaking News



The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media