अलविदा सुषमा: शाम 3 बजे होगा सुषमा का अंतिम संस्कार, अंतिम दर्शन के लिए लगा तांता

THE REPUBLIC INDIA। पूर्व विदेश मंत्री एवं भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज का मंगलवार रात निधन हो गया, वह 67 वर्ष की थीं. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के सूत्रों ने बताया कि स्वराज को रात करीब साढ़े नौ बजे के करीब अस्पताल लाया गया और उन्हें सीधे इमरजेंसी वॉर्ड में ले जाया गया. एम्स के चिकित्सकों ने बताया कि दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया. रात करीब 12.30 बजे सुषमा स्वराज के पार्थिव शरीर को उनके दिल्ली स्थित घर ले जाया गया. सुबह 8 बजे से 11 बजे तक जंतर-मंतर स्थित उनके आवास पर उनका अंतिम दर्शन किया जा सकेगा. कल शाम करीब तीन बजे लोधी रोड पर सुषमा स्वराज का अंतिम संस्कार होगा. पढ़ें लाइव अपडेट

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बताया कि कल दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच बीजेपी कार्यालय में सुषमा स्वराज के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. तीन बजे के बाद उनका अंतिम संस्कार होगा. सुषमा स्वराज के निधन की खबर सुनते ही राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी और स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन सहित कई वरिष्ठ नेता एम्स पहुंचे. सोशल मीडिया के जरिए तमाम नेताओं ने अपना दुख व्यक्त किया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर मंगलवार को गहरा दुख व्यक्त किया और कहा कि भारतीय राजनीति के एक गौरवशाली अध्याय का अंत हो गया. पीएम मोदी ने एक बाद एक कई ट्वीट करते हुए पूर्व विदेश मंत्री को असाधारण वक्ता और उत्कृष्ट सांसद बताया और कहा कि सभी राजनीतिक दलों के लोग उनकी प्रशंसा करते थे और उनका सम्मान करते थे. पीएम मोदी ने लिखा, ”मोदी ने कहा,‘‘जब बात विचारधारा की आती थी अथवा भाजपा के हितों की आती थी तो वह किसी प्रकार का समझौता नहीं करती थीं, जिसे आगे ले जाने में उनका बहुत योगदान था.’’

उन्होंने कहा,‘‘एक उत्कृष्ट प्रशासक, सुषमा जी ने जो भी मंत्रालय संभाला, उसमें उच्च मानक स्थापित किए. उन्होंने विभिन्न देशों के साथ भारत के संबंधों को सुधारने में अहम भूमिका निभाई. एक मंत्री के तौर पर हमने उनका करुणामय पक्ष भी देखा जो विश्व के किसी भी कोने में परेशान भारतीय की मदद करता था.’’

 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वराज के निधन पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट किया,‘‘सुषमा स्वराज के निधन के बारे में जानकर बेहद स्तब्ध हूं. देश ने एक प्यारा नेता खो दिया है जो सार्वजनिक जीवन में गरिमा, साहस और निष्ठा का प्रतीक था. दूसरों की मदद के लिए वह हमेशा तैयार रहती थीं. भारत की जनता की सेवा के लिए उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा.’’ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वह बेहद मूल्यवान सहयोगी के असामयिक निधन से गहरे सदमे और दुख में हैं. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा,‘‘सुषमा स्वराज के निधन के बारे में सुनकर बेहद स्तब्ध हूं. इस खबर को स्वीकार करना मुश्किल है, पूरा देश शोकाकुल है और उससे भी ज्यादा विदेश मंत्रालय.’’

288 Post Views
The Republic India

alok singh jadaun

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अलविदा सुषमा: आखिरी समय में भी कुलभूषण के लिए ये कर गई सुषमा स्वराज

Wed Aug 7 , 2019
THE REPUBLIC INDIA। पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की दिग्गज नेता रहीं सुषमा स्वराज पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले पर नजर बनाए हुए थीं. यही कारण है कि विदेश मंत्री न होने के बावजूद वह कुलभूषण जाधव के वकील हरीश साल्वे के साथ […]


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media