Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / गोरखपुर: अरुण जेटली के निधन से मेरी व्यक्तिगत क्षति- शिव प्रताप शुक्ला

गोरखपुर: अरुण जेटली के निधन से मेरी व्यक्तिगत क्षति- शिव प्रताप शुक्ला

गोरखपुर। पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया है. वह लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे.  उन्होंने 12.07 बजे अंतिम सांस ली. वह 66 साल के थे. 9 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ के बाद अरुण जेटली को एम्स […]

गोरखपुर पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया है. वह लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे.  उन्होंने 12.07 बजे अंतिम सांस ली. वह 66 साल के थे. 9 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ के बाद अरुण जेटली को एम्स में भर्ती कराया गया था. अनुभवी डॉक्टरों की टीम की देखरेख में उनका इलाज किया जा रहा था. शनिवार सुबह ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन उन्हें देखने पहुंचे थे. उनका अंतिम संस्कार रविवार को दिल्ली के निगम बोध घाट पर किया जाएगा.

अरुण जेटली जी के निकट सहयोगी और पूर्व वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने आज जेटली जी के निधन पर कहा कि उनका जाना बीजेपी के लिए और देश के लिए तो क्षति है ही, उनके लिए भी व्यक्तिगत क्षति हुई है। उनके एम्स में एडमिट होने से पहले उनकी लगातार बातें होती रही और वह जब सोमनाथ मंदिर, गुजरात गए थे तब अरुण जेटली जी ने उनसे वहां से प्रसाद लाने को कहा था।शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि जिस तरह से अरुण जेटली जी ने दृढ़ता के साथ जीएसटी बिल लागू किया वह एक उदाहरण है। वह पक्ष और विपक्ष सभी के साथ एक समान सहजता से रहा करते थे। उनके जाने से सबका नुकसान हुआ है.

Report By: Dhanesh Nishad