Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / सरकारें आई, गई लेकिन दस वर्षों से बदहाल पड़ा है अमेठी का राजीव गांधी स्टेडियम

सरकारें आई, गई लेकिन दस वर्षों से बदहाल पड़ा है अमेठी का राजीव गांधी स्टेडियम

Report By: Arun Gupta मुसाफिरखाना। बदहाल राजीव गांधी स्टेडियम को लेकर शनिवार को यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मुसाफिरखाना एसडीएम महात्मा सिंह को यूथ कार्यकर्ताओ ने क्षेत्रीय सांसद व प्रभारी मंत्री को संबोधित कर एक सूत्रीय ज्ञापन सौपा।कार्यकर्ताओ ने ज्ञापन पत्र में मांग की है मुसाफिरखाना कस्बा के अंतर्गत उपयुक्त और विशाल प्रदेश स्तरीय राजीव गांधी […]

Report By: Arun Gupta

मुसाफिरखाना। बदहाल राजीव गांधी स्टेडियम को लेकर शनिवार को यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मुसाफिरखाना एसडीएम महात्मा सिंह को यूथ कार्यकर्ताओ ने क्षेत्रीय सांसद व प्रभारी मंत्री को संबोधित कर एक सूत्रीय ज्ञापन सौपा।कार्यकर्ताओ ने ज्ञापन पत्र में मांग की है मुसाफिरखाना कस्बा के अंतर्गत उपयुक्त और विशाल प्रदेश स्तरीय राजीव गांधी स्टेडियम है, जो कि पिछले कई वर्षों से निरंतर बेहद ही जर्जर और अनुपयोगी होता जा रहा है,l

उपयोगी होने पर इस खेल मैदान से क्षेत्र के अनेकों प्रतिभावान युवाओं-छात्रों का भविष्य निश्चित रूप से बन सकता है, स्टेडियम के पुनर्निर्माण को लेकर युवाओं और छात्रों के द्वारा कई बार प्रशासनिक अमले को सूचित किया गया है !  लेकिन सरकार-प्रशासन और नेताओं के उपेक्षित रवैए से पिछले कई वर्षों से क्षेत्र के युवाओं और छात्रों के विश्वास को छला गया है 

युवाओं ने मांग की है कि संबंधित प्रकरण को संज्ञान में लेकर उक्त विभाग, जिले के सांसद एवं क्षेत्रीय विधायक, प्रभारी मंत्री आदि को सूचित कर के निराकरण कराया जाए ।कार्यकर्ताओ ने कहा कि हमारी मांगे 15 दिनों के अंदर कार्यवाही के लिए अग्रसित नही किया गया।तो कार्यकर्ता व युवा रोड पर प्रदर्शन करेंगे।ज्ञापन देने वालो में आशीष यादव,पवन तिवारी एडवोकेट,राजू ओझा आत्माराम,संदीप,गोविंद यादव राजेन्द्र,सौरभ सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे।