अगर आजम खां गए जेल तो प्रदेश में होगा बड़ा आंदोलन- मुलायम सिंह यादव

लखनऊ समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव अपनी पार्टी के नेता व सांसद आजम खां के बचाव में उतर आए हैं. करीब दो वर्ष के बाद लखनऊ स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित करते हुए मुलायम सिंह ने कहा कि आजम ने गरीबों की लड़ाई लड़ी. चंदे के पैसे से रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी बनाई, जिसमें देश-विदेश के छात्र पढ़ते हैं. इसमें मेरा और मेरे साथियों का भी सहयोग रहा है. सैकड़ों बीघा जमीन खरीदने वाला इंसान डेढ़ दो बीघा जमीन की बेईमानी नहीं कर सकता है. उन्होंने कहा मैं सपा नेताओं से बात करके आंदोलन की रूपरेखा तैयार करूंगा.

मुलायम सिंह ने कहा कि भाजपा के कुछ नेता भी आजम के खिलाफ हो रही कार्रवाई से नाराज हैं. उन नेताओं का नाम बताने से इन्कार करते हुए उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर वह आजम के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी से भी मिलेंगे.  हम आजम खां पर जुल्म बर्दाश्त नही करेंगे. जम्मू कश्मीर व बसपा गठबंधन जैसे विवादित मुद्दों से किनारा करते हुए मुलायम ने पत्रकारों से आजम के पक्ष में लिखने की अपील की. उन्होंने आजम को ईमानदार व देश का नेता बताया.

मुलायम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा आजम खां संघर्ष करके निकले हैं. उन्होंने विधायक कोटे की राशि भी विश्वविद्यालय में लगा दी है. मुलायम ने प्रदेश के सभी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेता से अपील करते हुए कहा कि जिस प्रकार से आजम खां को अपमानित किया जा रहा है, उसके खिलाफ सभी तैयार हो जाएं. पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा और इस आंदोलन की अगुआई मैं स्वयं करूंगा. मुझ पर भी तमाम मुकदमे झूठे लगाए गए थे. मैं एक दर्जन जेलों में रहा हूं. मुलायम ने मीडिया से अपील की कि आजम खां के साथ बदले की करवाई के विरोध में लिखे, खबर चलाएं.

दो बीघा जमीन के लिए 27 मुकदमे लाद दिए…

आजम की तारीफ करते हुए कहा कि साधारण परिवार से होते हुए भी ईमानदारी से मेहनत की है. भीख मांग मांग के विश्वविद्यालय तैयार किया है. मात्र दो बीघा जमीन के लिए 27 मुकदमे लाद दिए गए हैं. विश्वविद्यालय से बाहर जमीन को आधार बनाकर 13 मुकदमे किए गए. डकैती, लूट जैसे मुकदमे किए गए. ये पूरी तरह बदले की करवाई है. हम आजम के पक्ष में हैं और रहेंगे. सरकार आजम खां को अपमानित करना बंद करे. उन्होंने कहा कि बीजेपी के कुछ नेता सपा को आजम खां के बहाने बदनाम करने चाहते हैं. आजम अपने संघर्षों से, विद्वता से देश के नेता बनें इसलिए भाजपा उनसे नाराज है. एक सवाल के जवाब में मुलायम ने कहा कि शिवपाल यादव मेरा भाई है.

अब तक 76 मुकदमे दर्ज हो चुके…

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खां इस समय मुश्किलों के दौर से गुजर रहे हैं. उन पर भू-माफिया तक का टैग लग चुका है. उनके खिलाफ रामपुर में अब तक 76 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. ऐसे में आजम खां पर गिरफ्तारी का खतरा मंडरा रहा है. आजम खां को परेशानियों से बचाने के लिए उनकी पत्नी राज्यसभा सदस्य तंजीम फातिमा उतर चुकी हैं. बताया जा रहा है कि तंजीम फातिमा ने इस संबंध में सपा संरक्षक से मुलाकात की थी. उन्होंने इस मसले पर अपने पति को बचाने की गुहार लगाई है. कहा जा रहा है कि समाजवादी पार्टी में इस विषय पर मंथन हुआ और खुद मुलायम प्रेस कॉन्फ्रेंस करने की अपील की गई थी.

33 साल पुरानी है दोस्ती…
सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और आजम खां की दोस्ती करीब 33 साल पुरानी है. 1992 में जब मुलायम सिंह ने जनता दल से नाता तोड़ कर समाजवादी पार्टी का गठन किया तो आजम खां मजबूती से उनके साथ खड़े रहे. बीच में पार्टी और उनके बीच तल्खी भी बढ़ी, लेकिन समय के साथ सब सामान्य हो गया और फिर पार्टी का अहम हिस्सा बन गए.

 

236 Post Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यूपी बोर्ड परीक्षाओं को लेकर उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने की बड़ी घोषणा

Tue Sep 3 , 2019
कानपुर। यूपी बोर्ड परीक्षाओं को लेकर उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बड़ी घोषणा की है. उन्होंने कहा कि इस बोर्ड परीक्षा बेहद पारदर्शी होंगी, साथ ही 12वीं की 14 दिन और दसवीं की परीक्षाएं 12 दिनों में समाप्त हो जाएंगी. इसके साथ ही उन्होंने उच्च शिक्षा के लिए भी रोजगारपरक […]


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media