Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / जिलाधिकारी की मौजूदगी में दबंगो ने महिला को जमकर पीटा

जिलाधिकारी की मौजूदगी में दबंगो ने महिला को जमकर पीटा

संवाददाता: सरफराज़ आलम लखीमपुर खीरी: आये दिन दबंगों के द्वारा मारपीट की घटना एक आम बात हो गई है लेकिन अगर यही घटना जिला अधिकारी की मौजूदगी में हो तो वाकई दबंगों की दबंगई का अंदाजा आप स्वम् लगा सकते है । जी हाँ ऐसा ही एक मामला आज प्रकाश में आया जहाँ एक ज़मीनी […]

संवाददाता: सरफराज़ आलम

लखीमपुर खीरी: आये दिन दबंगों के द्वारा मारपीट की घटना एक आम बात हो गई है लेकिन अगर यही घटना जिला अधिकारी की मौजूदगी में हो तो वाकई दबंगों की दबंगई का अंदाजा आप स्वम् लगा सकते है ।

जी हाँ ऐसा ही एक मामला आज प्रकाश में आया जहाँ एक ज़मीनी विवाद के चलते दबंगों ने प्रशासन की इज़्ज़त को तार तार करते हुए जिला अधिकारी की मौजूदगी में महिला को जमकर पीटा।

जी हाँ आपको बताते चले की घटना लखीमपुर जिले की है जहाँ सदर तहसील रजिस्ट्री आफिस में दबंगों ने एक ज़मीनी विवाद के चलते महिला की पिटाई कर दी। दबंगों के हौसले इतने बुलंद थे की उन्होंने जिला अधिकारी महोदय का भी भ्रम नहीं रखा और उनके सामने ही उस महिला को बेरहमी से पीटने लगे। यहाँ तक की महिला के कपडे तक ओहाड़ने की कोशिश की गई और तो और उसका गला भी दबाने का प्रयास किया गया। और सबसे शर्म की बात ये है की दबंग पुरुष घटना को अंजाम देनेके बाद स्वम् फरार हो गया। न ही किसी ने उसे रोकने प्रयास किया न ही पकड़ने का। हमारे संवादता ने जब जानकारी जुटानी चाहि तो पता चला कि रजिस्ट्री कार्यालय में एक भी पुलिस कर्मी की तैनाती नहीं है। यहाँ तक की सम्पूर्ण समाधान में एक भी महिला सिपाही मौजूद नहीं थी। जिसका फायदा उठाकर दबंग घटना को अंजाम देने के बाद सबकी आँखों में धूल झोक कर फरार हो गया।

सूत्रों की माने तो दोनों पक्ष एक ही परिवार से सम्बन्ध रखते हैं। जिनका एक एकड़ ज़मीन को लेकर विवाद चल रहा था। दोनों पक्ष पकरिया खीरी के रहने वाले बताये जा रहे हैं। प्रशासनिक अधिकारियों से जब इस सिलसिले में बात करनी चाही तो उन्होंने कैमरे के सामने फिलहाल कुछ भी कहने से मन कर दिया।