Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / उन्नाव जनपद के प्राथमिक स्कूलों में भी नन्हें बच्चों ने मनाया आजादी का जश्न

उन्नाव जनपद के प्राथमिक स्कूलों में भी नन्हें बच्चों ने मनाया आजादी का जश्न

उन्नाव। देश में चौतरफा आजादी का 73वां जश्न मनाया जा रहा है. इस मौके पर देश के हर एक स्कूल में स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है.  ऐसे में उन्नाव जनपद के ब्लाक बिछिया की ग्रामसभा अलगनगढ़ में प्राथमिक विद्यालय में ग्राम प्रधान शिवप्यारी ,प्रधान प्रतिनिधि संदीप गौतम ,विद्यालय की प्रधान शिक्षिका विनाक्षी अवस्थी के […]

उन्ना देश में चौतरफा आजादी का 73वां जश्न मनाया जा रहा है. इस मौके पर देश के हर एक स्कूल में स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है.  ऐसे में उन्नाव जनपद के ब्लाक बिछिया की ग्रामसभा अलगनगढ़ में प्राथमिक विद्यालय में ग्राम प्रधान शिवप्यारी ,प्रधान प्रतिनिधि संदीप गौतम ,विद्यालय की प्रधान शिक्षिका विनाक्षी अवस्थी के साथ सहायक शिक्षक तथा अन्य लोगो के साथ धूम धाम से मनाया.

इस मौके पर प्रधान प्रतिनिधि ने लोगो को आपसी भाई चारे से रहने और प्रधानमंत्री जी द्वारा दिए गए आज के सन्देश को लोगो के बीच में बताया. जिस में पालीथीन को प्रतिबंधित किये जाने का सन्देश देकर इस कदम का स्वागत भी किया साथ ही साथ ग्राम सभा को पूरी तरह से स्वच्छ और सुंदर बनाने में सहयोग देने के भी अपील की. विद्यालय की प्रधान शिक्षिका ने कहा कि 15 अगस्त, 1947 को जो हमें आजादी मिली, वह आसानी से नहीं मिल गई. इसके लिए हमें बड़ी कुर्बानी देनी पड़ी है और लंबा संघर्ष करना पड़ा है.

महात्मा गांधी, भगत सिंह, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, सरदार वल्लभभाई पटेल, डॉ.राजेंद्र प्रसाद, मौलाना अबुल कलाम आजाद, सुखदेव, गोपाल कृष्ण गोखले, लाला लाजपत राय, लोकमान्य बालगंगाधर तिलक, चंद्र शेखर आजाद जैसे हजारों स्वतंत्रता सेनानियों ने बलिदान दिया. तब जाकर हम आजाद फिजा में सांस लेने के काबिल हो पाए। देश की आजादी के लिए स्वतंत्रता सेनानियों ने खूब मेहनत की. उन्होंने ब्रिटिश शासन से लड़ने में दिन-रात एक कर दिए.  उन्होंने अपने आराम और जीवन के सारे सुख त्याग दिए. उनमें से कुछ जैसे भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाकुल्लाह खान जैसे स्वतंत्रता सेनानियों तो अपनी जान तक देश पर कुर्बान कर दी.

REPORT BY: ALOK TIWARI