Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / IND vs SA: पहले ही टी-20 में बदल गई भारतीय टीम की जर्सी

IND vs SA: पहले ही टी-20 में बदल गई भारतीय टीम की जर्सी

साउथ अफ्रीका के खिलाफ आज पहला टी-20 खेलेगी टीम इंडिया नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर उतरेगी टीम साउथ अफ्रीका का भारत दौरा आज से शुरू हो रहा है. दौरे का आगाज टी-20 सीरीज से होगा, जिसका पहला मैच आज रात 7 बजे से धर्मशाला में खेला जाएगा. भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज […]

  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ आज पहला टी-20 खेलेगी टीम इंडिया
  • नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर उतरेगी टीम

साउथ अफ्रीका का भारत दौरा आज से शुरू हो रहा है. दौरे का आगाज टी-20 सीरीज से होगा, जिसका पहला मैच आज रात 7 बजे से धर्मशाला में खेला जाएगा.

भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में 3-0 की जीत हासिल कर वनडे वर्ल्ड कप की निराशा को कुछ हद तक दूर किया. टीम की असली परीक्षा अब क्विंटन डि कॉक और कैगिसो रबाडा के खिलाफ इस सीरीज के साथ शुरू होगी.

भारतीय क्रिकेट टीम नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर आज पहली बार मैदान पर उतरेगी. वेस्टइंडीज दौरे तक भारतीय टीम ओप्पो के साथ खेल रही थी.

भारतीय टीम का सामना यहां के हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के साथ पहले टी-20 मुकाबले में होगा. दोनों टीमों के बीच तीन टी-20 मैच खेले जाने हैं.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 25 जुलाई को शैक्षणिक तकनीक एवं ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने वाली कंपनी बाइजू को भारतीय टीम का प्रायोजक बनाए जाने की आधिकारिक पुष्टि की थी.

इस बात का ऐलान उसी समय हो गया था कि बेंगलुरु स्थित यह कंपनी अब भारतीय टीम की जर्सी पर स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी ओप्पो का स्थान लेगी.

बाइजू इस साल पांच सितंबर से 31 मार्च 2022 तक भारतीय टीम की आधिकारिक प्रायोजक रहेगी. ओप्पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए (मार्च 2022 तक) भारतीय टीम के प्रायोजक का अधिकार हासिल किया था.

ओप्पो ने हालांकि इस करार को बीच में ही खत्म कर दिया और इस बीच बीसीसीआई ने 2022 तक के लिए बाइजूज को ऑनबोर्ड किया.