Latest News Kanpur: 32 साल पहले पाकिस्तान से भारत आया परिवार, पहचान छिपाई, घर भी बना लिया और मिल गई सरकारी नौकरी , अब कोर्ट ने लिया संज्ञान Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू
Home / महाराष्ट्रऔर हरियाणा का बज गया बिगुल, 21 को चुनाव और 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे

महाराष्ट्रऔर हरियाणा का बज गया बिगुल, 21 को चुनाव और 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे

नई दिल्ली: महाराष्ट्र (Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) के विधानसभा चुनावों (Assembly Elections 2019) की घोषणा हो गई है. चुनाव आयोग (Election Commission) की प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन चुनावी तारीखों का ऐलान किया गया. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि महाराष्‍ट्र और हरियाणा में 21 अक्‍टूबर को चुनाव होंगे. दोनों राज्‍यों के चुनावी नतीजें 24 अक्‍टूबर को जारी किए जाएंगे. दोनों राज्‍यों […]

नई दिल्ली: महाराष्ट्र (Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) के विधानसभा चुनावों (Assembly Elections 2019) की घोषणा हो गई है. चुनाव आयोग (Election Commission) की प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन चुनावी तारीखों का ऐलान किया गया. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि महाराष्‍ट्र और हरियाणा में 21 अक्‍टूबर को चुनाव होंगे. दोनों राज्‍यों के चुनावी नतीजें 24 अक्‍टूबर को जारी किए जाएंगे. दोनों राज्‍यों में एक ही चरण में चुनाव कराए जाएंगे.

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने बताया कि हरियाणा में 100 फीसदी वोटर्स के पास मतदाता पहचान पत्र हैं. महाराष्‍ट्र में 8.94 करोड़, जबकि हरियाणा में 1.28 करोड़ मतदाता हैं. उम्‍मीदवारों को अपने आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी देनी होगी. कोई भी कॉलम खाली रहा तो उम्‍मीदवार का नामांकन रद्द कर दिया जाएगा. सीईसी ने चुनाव प्रचार में प्‍लास्टिक का इस्‍तेमाल न करने की अपील भी की. CEC ने कहा कि पांच बूथों के वीवीपैट का मिलान किया जाएगा. अधिसूचना जारी होते ही लाइसेंसी हथियारों को जमा करना होगा. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त बताया कि इन विधानसभा चुनावों में हर उम्मीदवार के चुनावी खर्च की सीमा 28 लाख रुपये तक तय की गई है. चुनावों को शांतिपूर्ण और पूरी सुरक्षा के साथ संपन्‍न कराने के लिए र्प्‍याप्‍त संख्‍या में सुरक्षाबलों की तैनाती की जाएगी.

मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त ने बताया कि इसके अलावा अरुणाचल प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, असम, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मध्‍यप्रदेश, मेघालय, ओडिशा, पुदुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश में 64 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए उप-चुनाव 21 अक्टूबर को होंगे, जबकि मतगणना 24 अक्टूबर को की जाएगी.