गरीबों को रोजगार देने वाला एक्ट महात्मा गांधी चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट 

 

हसनगंज | भले ही उत्तर प्रदेश की योगी सरकार उत्तर प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त कर उत्तम प्रदेश के बनाने के भागीरथी प्रयास कर रही हो पर प्रदेश के भ्रष्टाचारी है कि मानने को तैयार ही नहीं और लगातार नए नए भ्रष्टाचार सामने आ रहे हैं। ताज़ा मामला उन्नाव की पमेधिया ग्राम पंचायत का है जहां के प्रधान ने महात्मा गांधी मनरेगा एक्ट में दर्जनों लोगों के फर्जी नाम डाल कर लाखों रुपए एक्ट से निकाल लिए।

प्रदीप वर्मा उपजिलाधिकारी

इस एक्ट के अंतर्गत गांव के लोगों के जाॅब कार्ड बनवा कर उन्हें काम दिया जाता है काम करवाने के बाद मजदूरी के रूप में इस एक्ट से भुगतान किया जाता है पर प्रधान ने फर्जी तरीके से ऐसे लोगों के नाम पर प्रधान ने फर्जी तरीके से ऐसे लोगों के नाम डाले जो कभी भी काम करने नहीं जाते और उनके खाते में रुपए पहुंच जाते हैं। कुछ तो ‌ऐसे लोगों के ‌भी नाम है पर उनका भी पैसा निकाला जा रहा है बस इन खाता धारकों को कुछ रुपए दे दिए जाते हैं बैंक से रुपए निकलवा लिए जाते है।
इस भ्रष्टाचार की शिकायत खण्ड विकास अधिकारी से लेकर जिलाधिकारी तक कि गई है। जिस पर उपजिलाधिकारी हसनगंज प्रदीप वर्मा ने जांच कर कड़ी कार्यवाही करवाने की बात कही है।

Report : Raghvendra Singh

167 Post Views

alok singh jadaun

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

घाघरा नदी का प्रकोप, चारों तरफ पानी ही पानी, प्रशासन अलर्ट

Tue Sep 10 , 2019
  सिरौलीगौसपुर बाराबंकी | तराई के गांव में घाघरा नदी का प्रकोप, चारों तरफ पानी ही पानी, प्रशासन अलर्ट, घरों में घुसा पानी ग्रामीणों का बांध पर पलायन!! ज्ञात हो कि पिछले दिनों से लगातार घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ते बढ़ते विकराल बाढ़ का रूप धारण कर लिया दर्जनों गांव […]


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media