होम / डोर तो डोर पहुंचाई जा रही आवश्यक सामग्री

डोर तो डोर पहुंचाई जा रही आवश्यक सामग्री

TRI News : पूरे देश में लोडर होने के बाद जिला स्तरों पर सबसे बड़ी समस्या आवश्यक सामग्री को लेकर थीम जिसको लेकर हमारे देश के प्रधानमंत्री खुद चिंतित थे और उन्होंने सभी अधिकारियों को यह आदेश दिया था कि 21 दिन के लॉक डाउनलोड दौरान किसी भी नागरिकों किसी तरीके की परेशानी ना हो […]

डोर तो डोर पहुंचाई जा रही आवश्यक सामग्री

TRI News : पूरे देश में लोडर होने के बाद जिला स्तरों पर सबसे बड़ी समस्या आवश्यक सामग्री को लेकर थीम जिसको लेकर हमारे देश के प्रधानमंत्री खुद चिंतित थे और उन्होंने सभी अधिकारियों को यह आदेश दिया था कि 21 दिन के लॉक डाउनलोड दौरान किसी भी नागरिकों किसी तरीके की परेशानी ना हो उसके लिए आवश्यक सामग्री जैसे फल दूध सब्जी उनके घरों पर ही मुहैया कराया जाए इसी क्रम में बहराइच जिला अधिकारी ने ऐसे फल सब्जी दूध वालों को बुला उनका स्पेशल पास जारी किया और उनका नंबर जारी किया जिलाधिकारी ने सभी दूध फल सब्जी वालों को निर्देशित किया कि वह डोर टू डोर जाकर सभी नागरिकों को उनकी आवश्यकता की सामग्री पहुंचाएं और साथ ही इस बात का भी खास ध्यान रखा गया कि कहीं से कोई मुनाफाखोरी की शिकायत ना होने पाए जिसको लेकर जिलाधिकारी ने एक नंबर जारी किया यदि कोई सब्जी फल दूध वाला आपसे निर्धारित रेट से ऊपर पैसों की डिमांड करता है तो आप उसकी शिकायत उसने मदद कर सकते हैं।

इस संबंध में जिलाधिकारी शंभू कुमार का कहना है कि पूरे देश में किस दिनों काला उड़ान घोषित है और फिर कोशिश यह है कि जनता एक जगह पर एकत्रित ना हो लोग अपने घरों में रहे किसी भी दशा में घर से बाहर ना निकले कर्म में हम लोगों ने कोशिश की है कि जो रोजमर्रा की आवश्यक सामग्री है को हम लोगों ने घर तक पहुंचाने का प्रयास किया है चाहे वह फल है या सब्जी हो पानी हो या किराना स्टोर का समान हो यह सब चीजें उनके दरवाजे तक पहुंच रही है इसके लिए टीमें बनाई गई हैं ठेले पर सब्जी में पहुंच रहे हैं फल पहुंच रहा है घर के बाहर से ही वो लोग समान परचेज करके अपने घर के अंदर वापस चले जा रहे हैं और किसी प्रकार से कहीं भी भीड़-भाड़ की स्थिति नहीं बन रही है दवा की दुकानें भी चिन्नित करके खोली गई हैं अजोला दवा लेने भी जा रहे हैं उनको सोशल डिस्ट्रस्टिंग मतलब 1 मीटर की दूरी एक एक गोल घेरा बनाया गया है जापान करके ही दवा ले रहे हैं तो इसी वजह से कहीं कोई संक्रमण का खतरा नहीं है और लोगों को रोजमर्रा का सामान उनके घरों पर ही मिल रहा है।