Latest News Kanpur: 32 साल पहले पाकिस्तान से भारत आया परिवार, पहचान छिपाई, घर भी बना लिया और मिल गई सरकारी नौकरी , अब कोर्ट ने लिया संज्ञान Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू
Home / मरीजों की हो रही भारी फजीहत,स्वास्थ केंद्र में कोई नहीं उपचार

मरीजों की हो रही भारी फजीहत,स्वास्थ केंद्र में कोई नहीं उपचार

बाँसडीह: प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाँसडीह पर विगत दो सप्ताह से एंटी रैबीज इंजेक्शन न होने के चलते नगर सहित आप पास के क्षेत्र के लोगो को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से प्रत्येक दिन लगभग एक दर्जन मरीज वापस लौट रहे है। और प्राइवेट मेडिकल स्टोर का सहारा ले […]

बाँसडीह: प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाँसडीह पर विगत दो सप्ताह से एंटी रैबीज इंजेक्शन न होने के चलते नगर सहित आप पास के क्षेत्र के लोगो को भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से प्रत्येक दिन लगभग एक दर्जन मरीज वापस लौट रहे है। और प्राइवेट मेडिकल स्टोर का सहारा ले रहे है। जिसके कारण उनका आर्थिक शोषण हो रहा है। बताते चले कि बाँसडीह प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर विगत दो सप्ताह से एंटी रैबीज इंजेक्शन खत्म हो गया है। जिसके कारण मरीजों की भारी फजीहत हो रही है।

नगर क्षेत्र से कुत्ते या बंदर के काटे हुये मरीज रोज स्वास्थ्य केंद्र पर तो लगभग दर्जन की सख्या में आ रहे है।घंटो इंतजार करने के बाद रैबीज सुई न होने का हवाला देकर स्वास्थ्य कर्मी उन्हें लौटा देते है। जो मरीज सक्षम होता है। वह मेडिकल से इंजेक्शन ले रहा है। बाकी गरीब व असहाय तबके के मरीज स्वास्थ्य विभाग के आस में बैठा हुआ है।की जब आएगा तभी हम लोग सुई लगाएंगे।

  • नरेंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि शासन द्वारा निःशुक स्वास्थ सेवाये दी जा रही है।उसके बाउजूद भी स्वास्थ केंद्रों पर सुई नही है।
  • कन्हैया उपाध्याय ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर एंटीरेविस सुई न होने के चलते मरीज दर दर भटक रहे है।
  • दयाशंकर राजभर ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के उदासीनता के चलते आज कुत्ता काटने व बन्दर काटने वाले मरीज हलकान में पड़े है।
  • अजित कुमार ने बताया कि स्वास्थ विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के चलते गरीब असहाय लोग एंटीरेविस सुई को मंहगे दामों में खरीद कर लगवा रहे है।