Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / लाल का शव देख फफक पड़े लोग, साथियों ने दिया अंतिम सलामी

लाल का शव देख फफक पड़े लोग, साथियों ने दिया अंतिम सलामी

संवाददाता: अभिषेक मिश्रा रेवती। स्थानीय थाना क्षेत्र के नवकागांव निवासी तथा बाराबंकी में तैनात पीएसी जवान की सड़क हादसे में हुई मृत्यु के बाद तिरंगे में लिपटा हुआ शव सोमवार को नवकागांव पहुंचा।अपने लाल के शव को देखने के लिए पूरे क्षेत्र उमड़ पड़े।जैसे ही पुत्र के शव को पिता ने देखा दहाड़े मार कर […]

संवाददाता: अभिषेक मिश्रा

रेवती। स्थानीय थाना क्षेत्र के नवकागांव निवासी तथा बाराबंकी में तैनात पीएसी जवान की सड़क हादसे में हुई मृत्यु के बाद तिरंगे में लिपटा हुआ शव सोमवार को नवकागांव पहुंचा।अपने लाल के शव को देखने के लिए पूरे क्षेत्र उमड़ पड़े।जैसे ही पुत्र के शव को पिता ने देखा दहाड़े मार कर रोने लगे।दरवाजे पर करीब 2 घंटे तक शव को लोगो के दर्शन के लिये रखने के पश्चात बाराबंकी से आये पीएसी के जवानों ने परिजनों की मौजूदगी में उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ गंगा नदी के हुकुम छपरा घाट पर किया।इस दौरान पीएसी के जवानों ने अपने साथी को गार्ड ऑफ ऑनर के साथ अंतिम सलामी दी।बतातें चलें कि रेवती थाना क्षेत्र के नवकागांव निवासी पृथ्वीनाथ सिंह(53) बाराबंकी में 10 वीं वाहिनी पीएसी के डीजल में आरक्षी के पद पर तैनात थे।वे 22 फरवरी को अपनी चाची के दाह संस्कार में भाग लेने के लिए गांव पर आए हुए थे।

दाह संस्कार के बाद वह लौटकर बाराबंकी ड्यूटी ज्वाइन के लिए पहुंचे गये।23 फरवरी को कार्यालय में अपना आमद कराने के बाद पृथ्वीनाथ सिंह विभागीय कार्य से अपने स्कूटी से जा रहे थे कि इसी बीच गेट नंबर 3 के बाहर फैजाबाद रोड पर स्थित पेट्रोल पंप के समीप ट्रक के चपेट में आने से मौके पर मौत हो गई थी।जैसे ही इसकी सूचना पीएसी कैंप पहुची।सभी अधिकारी मौके पर पहुचे गये तथा इसकी सूचना परिजनों को दी।जैसे ही इसकी सूचना परिजनों को मिली पूरे परिवार में कोहराम मच गया।उनका पार्थिव शरीर सोमवार को पीएसी के जवानों ने अपने वाहन से लेकर उनके पैतृक गांव पहुंचे।