Latest News Kanpur: 32 साल पहले पाकिस्तान से भारत आया परिवार, पहचान छिपाई, घर भी बना लिया और मिल गई सरकारी नौकरी , अब कोर्ट ने लिया संज्ञान Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू
Home / कानपुर में नहीं थम रही रैगिंग की वारदात, एक छात्रा फिर हुई शिकार

कानपुर में नहीं थम रही रैगिंग की वारदात, एक छात्रा फिर हुई शिकार

Report By: Shubham Gaur कानपुर। यूपी के कानपुर में रैगिंग का फिर एक मामला सामने आया है. यहां मंगलवार रात सीएसए विश्वविद्यालय की प्रथम वर्ष की छात्रा रैगिंग से तंग आकर छात्रावास की दूसरी मंजिल से कूद गई. विवि प्रशासन द्वारा छात्रा को आनन-फानन में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां छात्रा […]

Report By: Shubham Gaur

कानपुर यूपी के कानपुर में रैगिंग का फिर एक मामला सामने आया है. यहां मंगलवार रात सीएसए विश्वविद्यालय की प्रथम वर्ष की छात्रा रैगिंग से तंग आकर छात्रावास की दूसरी मंजिल से कूद गई. विवि प्रशासन द्वारा छात्रा को आनन-फानन में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां छात्रा की हालत गंभीर बनी हुई है.

छात्रा दिव्या कमल (22) कानपुर देहात की रहने वाली है. सीएसए में बीएससी होम साइंस प्रथम वर्ष की छात्रा है. परिजनों ने बताया कि मंगलवार शाम दिव्या कमल का फोन भाई सौरभ के पास आया था.

सौरभ सीएसए का पूर्व छात्र रह चुका है. फोन पर छात्रा ने शौरभ से कहा कि भाई आप तो कह रहे थे कि फ्रेशर पार्टी के बाद यहां रैगिंग नहीं होगी लेकिन सीनियर अभी भी बहुत परेशान करते हैं. तरह-तरह के सवाल पूछते हैं. भाई ने छात्रा को समझाया कि वह हताश न हो.

परिजनों ने बताया कि रात करीब नौ बजे के बाद विवि प्रशासन से फोन आया कि आपकी बेटी छात्रावास की दूसरी मंजिल से कूद गई है और हम उसे अस्पताल लेकर जा रहे हैं. छात्रा का फोन सीनियर छात्रा के पास से बरामद हुआ है. वहीं विवि प्रशासन का कहना है कि छात्रा फोन पर बात करते-करते कूदी है.