Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / शुक्लागंज: गजानन महाराज को अंतिम विदाई देने के लिए भक्तों की उमड़ी भीड़

शुक्लागंज: गजानन महाराज को अंतिम विदाई देने के लिए भक्तों की उमड़ी भीड़

Report By: Ankit Kushwaha शुक्लागंज, उन्नाव। एक ओर गणेश पंडालों में धूम मची हुई है, वहीं दूसरी ओर गणेश प्रतिमाओं के विर्सजन का भी सिलसिला शुरू हो गया है। 2 सितंबर से शुरू हुई गणेश पूजन का अब अंतिम समय चल रहा है। जिस कारण गगनी खेड़ा झील में प्रतिमाओं के विसर्जन का सिलसिला जारी […]

Report By: Ankit Kushwaha

शुक्लागंज, उन्नाव एक ओर गणेश पंडालों में धूम मची हुई है, वहीं दूसरी ओर गणेश प्रतिमाओं के विर्सजन का भी सिलसिला शुरू हो गया है। 2 सितंबर से शुरू हुई गणेश पूजन का अब अंतिम समय चल रहा है। जिस कारण गगनी खेड़ा झील में प्रतिमाओं के विसर्जन का सिलसिला जारी है। रविवार को नगर व आस पास के कई क्षेत्रांे के गजानन महाराज को अंतिम विदाई दी गई।

वहीं नगर में गणेश महोत्सव में धूम मची हुई है। जगह-जगह पंडालों में विराजे गणपति बप्पा मोरया की जय जयकार से नगर गूंज गया। वहीं बैराज मार्ग फतेहखेड़ा झील में रविवार को दूर-दराज से लोग गणेश विसर्जन करने को आये। वहीं नेहरू नगर के गणपति बप्पा के विसर्जन के दौरान कीर्ती ज्वैलर्स की ओर से राजेश बाजपेई ने गणेश जी की छपी हुई टी शर्ट का वितरण करते हुए फूलांे की वर्षा कर बप्पा को विदाई दी। वहीं पोनी रोड के गणेश जी की भव्य शोभा यात्रा निकाली गई।

वहीं गणेश पंडालों में रात के समय विघ्नहर्ता की महाआरती की गई और महाभोग का प्रसाद भक्तों में बांटा गया। इसी तरह द्वारिक मोहनी में भी गजानन सरकार की महाआरती की गई। पूरे नगर में जगह-जगह गणेश महोत्सव की धूम मची रही। इसके साथ ही नगर, उन्नाव व कानपुर के लोग फत्ते खेड़ा झील में मूर्तियां विसर्जन करने के लिए सुबह से देर शाम तक आते रहे। गणपति बप्पा मोरया के जायकारें लगाते हुए युवक और युवतियां भक्ति गीतों में थिरकते हुए बप्पा को विदाई दी जा रही है। श्रद्धालु अबीर, गुलाल उड़ाते हुए बप्पा को विदाई दे रहे हैं।