Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / दीपोत्सव के कार्यक्रम से जग मगाएगा शुक्लागंज का बालूघाट

दीपोत्सव के कार्यक्रम से जग मगाएगा शुक्लागंज का बालूघाट

शुक्लागंज, उन्नाव। नमामि गंगे परियोजना के तहत बालूघाट पर घाटों का सुंदरीकरण करवाया गया है। जिला प्रशासन के निर्देश 28 सितंबर को स्वच्छ भारत मिशन के तहत वृह्द स्तर पर दीपोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जहां शाम को हजारों लोग गंगा में दीप दान करेंगे। इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जायेंगे। कार्यक्रम में […]

शुक्लागंज, उन्नाव। नमामि गंगे परियोजना के तहत बालूघाट पर घाटों का सुंदरीकरण करवाया गया है। जिला प्रशासन के निर्देश 28 सितंबर को स्वच्छ भारत मिशन के तहत वृह्द स्तर पर दीपोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जहां शाम को हजारों लोग गंगा में दीप दान करेंगे। इसके साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जायेंगे। कार्यक्रम में डीएम समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहेंगे।
आगामी 28 सितंबर को हजारों लोग गंगा में दीपों का दान करेंगे । इसके लिए अभी से तैयारियां शुरू हो गई हैं। शुक्रवार को बांगरमऊ वन विभाग के एसडीओ आर एन चैधरी, सदर वन विभाग के एसडीओ दीपक श्रीवास्तव, अधिशाषी अधिकारी सुनील कुमार मिश्रा बालूघाट पहुंचे। जहां अधिकारियों ने हजारों लोगों की मौजूदगी में दीप दान करने की जगह का जायजा लिया। घाट के किनारे तेज धारा बह रही थी, जिसको लेकर असमंजस्य की स्थिति दिखी। बीच रेती पर कार्यक्रम आयोजित कराने के लिए जिलाधिकारी से परामर्श लेने की बात कही। वन विभाग के एसडीओ दीपक श्रीवास्तव ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत रंगोली, सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से स्वच्छता का संदेश दिया जायेगा। सौभाग्य योजना के तहत विद्युती करण के बारे में भी लोगों को अवगत कराया जायेगा। वहीं डीएम के निर्देश पर स्वास्थ्य, राजस्व, पीडब्ल्यूड, सूचना विभाग, नगर पालिका, प्रधान, सभासद, क्षेत्र पंचायत सदस्य समेत सभी जिम्मेदारों को भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी दी जायेगी।