Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / तो तय हुआ पैसे वालो की बिजली और बाकी…

तो तय हुआ पैसे वालो की बिजली और बाकी…

लखनऊ। बिजली की नई दरें प्रदेश में गुरुवार से लागू होंगी. घरेलू व आम उपभोक्ताओं की बिजली औसतन 12 फीसद (11.69 फीसद) तक महंगी की गई है. इसके साथ ही बिजली कंपनियों ने नई दरों के मुताबिक बिलिंग के इंतजाम शुरू कर दिए हैं, वहीं इसका विरोध भी तेज हो गया है. अक्टूबर में बढ़े […]

लखनऊ। बिजली की नई दरें प्रदेश में गुरुवार से लागू होंगी. घरेलू व आम उपभोक्ताओं की बिजली औसतन 12 फीसद (11.69 फीसद) तक महंगी की गई है. इसके साथ ही बिजली कंपनियों ने नई दरों के मुताबिक बिलिंग के इंतजाम शुरू कर दिए हैं, वहीं इसका विरोध भी तेज हो गया है. अक्टूबर में बढ़े दर पर बिल आएंगे.

नई दरों के अनुसार बिना मीटर वाले ग्रामीण कनेक्शनों में 25 फीसद, किसानों के लिए लगभग 14 प्रतिशत और शहरी घरेलू दरों में 12 से 15 फीसद के साथ अन्य श्रेणी के विद्युत उपभोक्ताओं की दरों में भी व्यापक वृद्धि की गई है. वाणिज्यिक बिजली उपभोक्ताओं को अब 8.75 रुपये प्रति यूनिट तक चुकाने होंगे. भवन निर्माण के लिए अस्थायी कनेक्शन लेने पर आठ रुपये प्रति यूनिट देने होंगे. चूंकि उद्योगों की स्थिति पहले से ही अच्छी नहीं है इसलिए इनकी बिजली की दरों में पांच से दस फीसद तक का ही इजाफा गुरुवार से होगा.

पावर कारपोरेशन के निदेशक (वाणिज्यिक) एके श्रीवास्तव ने बताया कि बिजली की बढ़ी दरें गुरुवार से लागू हो जाएंगी. सभी वितरण कंपनियां नए टैरिफ के अनुसार अब बिल की गणना करेंगी.

पहले 11 दिन की खपत की गणना पुरानी दर से

नए टैरिफ के 12 तारीख से लागू होने के कारण शुरुआती 11 दिनों की बिजली खपत की गणना पुरानी दरों से की जाएगी लेकिन, 11 दिनों की खपत पूरे महीने के खर्च पर प्रतिदिन के औसत से निकाली जाएगी. उप्र विद्युत नियामक आयोग द्वारा तीन सितंबर को बिजली दरों में वृद्धि की घोषणा के साथ ही पावर कॉरपोरेशन ने एक हफ्ते बाद से बढ़ी दरें लागू करने की सार्वजनिक सूचना पांच सितंबर को प्रकाशित कराई थी.