सुल्तानपुर: मनचलों की शिकार हुई छात्रा की मौत, मामले पर पुलिस की हीलाहवाली आई सामने

सुल्तानपुर यूपी के सुल्तानपुर में छेड़खानी का विरोध करने पर एक छात्रा को मनचलों ने बाइक से कुचल दिया जिससे इलाज के दौरान छात्रा की मौत हो गई इस मामले में परिजनों ने पुलिस के सामने छेड़खानी की शिकायत की थी लेकिन पुलिस की लापरवाही से मुकदमा दर्ज करने में हीला हवाली की गई जिसके चलते लखनऊ में इलाज करा रही छात्रा की मौत हो गई. 

क्या है मामला?

सुल्तानपुर के लंभुआ थाना में दामोदर इंटर कॉलेज की पढ़ने वाली कक्षा 10 की छात्रा यास्मीन बानो स्कूल से छुट्टी होने के दौरान अपने बहन के साथ घर जा रही थी रास्ते में बाइक सवार तीन मनचले प्रदीप आशीष व संदीप ने उसे रोका और उसके साथ छेड़खानी करने लगे छेड़खानी का विरोध करने पर उन लोगों ने छात्रा को न सिर्फ गाली दी बल्कि दुपट्टा खींच कर जमीन पर गिरा दिया और फिर तेज रफ्तार से लाकर बाइक उसके ऊपर चढ़ा दी इस भाषा होने के बाद जब परिजनों को इसकी सूचना हुई तो आनन-फानन में छात्रा को लेकर परिजन अस्पताल पहुंचे यह घटना बीती 8 अगस्त की है छात्र की दुर्घटना के बाद हालत बेहद गंभीर थी लिहाजा डाक्टरों ने उसे लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया मामले में न्याय पाने के लिए परिजन थाने पहुंचे जहां पर थानेदार से मनचलों की शिकायत की गई बताते हैं कि परिजनों की तहरीर के बाद भी इस मामले में पुलिस ने कोई भी कार्यवाही नहीं की इधर इलाज चलता रहा लेकिन दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल छात्रा यास्मीन बानो ने लखनऊ में 14 अगस्त को दम तोड़ दिया मौत के बाद परिजन बेहद नाराज हुए और उन्होंने पुलिस पर अपनी लड़की की हत्या का आरोप मढ़ना शुरू किया जिसके बाद से राजनीतिक मामले ने तूल पकड़ ली देखते ही देखते यह मामला सांप्रदायिक माहौल का रूप लेने लगा जिसके बाद पुलिस प्रशासन जागा और उसने परिजनों की तहरीर पर तीनों अभियुक्तों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया

मृतक छात्रा की फाइल फोटो

क्या कहा पुलिस ने?

“8 अगस्त को कक्षा 11 की छात्रा की सड़क दुर्घटना में गंभीर चोट लगी थी इसके बाद उनका इलाज पहले सुल्तानपुर में फिर लखनऊ में ट्रामा सेंटर में चल रहा था इस संबंध में 11 अगस्त को परिजनों की तहरीर के आधार पर एक मुकदमा दर्ज किया गया था 14 तारीख को छात्रा की मृत्यु हो गई उसके बाद 308 के स्थान पर 304 आईपीसी का मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तारी के प्रयास किए गए और और 16 तारीख को उसमें जो 3 अभियुक्त गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया समझ में कुछ खबरें प्रकाश में आएगी थाने पर 8 अगस्त को थाने में मुकदमा लिखने पर हिला वाली की गई इस संबंध में लंभुआ जांच के लिए आदेश किया गया था जांच रिपोर्ट आ गई उसके आधार पर इंस्पेक्टर और अन्य पुलिसकर्मियों को ऐसे संवेदनशील मामलों सही समय में मुकदमा पंजीकृत नहीं करने का पाया गया है इसी के आधार पर उन कर्मियों को निलंबित कर दिया गया”-हिमांशु कुमार (पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर)

REPORT BY: VIPIN KUMAR GAUTAM

231 Post Views
The Republic India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यूपी में कई मंत्रियों की छिनेगी कुर्सी तो कई के सिर पर सजेगा ताज

Sun Aug 18 , 2019
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के योगी मंत्रिमंडल में 6 नए मंत्रियों को सोमवार शाम को राजभवन में शपथ ग्रहण कराया जाएगा. सूत्रों का कहना है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से आने वाले विधायकों कोमंत्रिमंडल में विशेष तरजीह दी जाएगी. वहीं, पूर्वांचल से भी दो नाम शामिल किए जा सकते है. वहीं पश्चिम यूपी से भाजपा संगठन […]


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media