डीएम मे किया औचक निरीक्षण तो खुल गई स्कूलों की पोल, कई पर गिरी गाज

डीएम मे किया औचक निरीक्षण तो खुल गई स्कूलों की पोल, कई पर गिरी गाज
  • मोटर साइकिल पर सवार होकर जिलाधिकारी ने कई विद्यालयों का किया निरीक्षण,
  • नदारद कई अध्यापकों पर गिरी निलम्बन की गाज
  • जिलाधिकारी ने बीएसए से लेकर जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिया अल्टीमेटम

श्रावस्ती विकासखण्ड जमुनहा के अन्तर्गत प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालय लक्ष्मनपुर सेमरनिया तक चार पहिया वाहन न पहुंचने के कारण मजरा पोंदली से मोटर साइकिल से चलकर जब जिलाधिकारी ओपी आर्य ने औचक निरीक्षण किया तो वे हतप्रभ रह गये, क्योंकि यंहा पर तैनात सहायक अध्यापक प्रशान्त मिश्रा 07 अगस्त से ही नदारद मिले वंही तैनात शिक्षामित्र राजेश कुमार एवं अंजू देवी भी हस्ताक्षर बनाकर नदारद मिले.

उच्च प्राथमिक विद्यालय में तैनात सहायक अध्यापक भूपेन्द्र भी नदारद मिले तथा उच्च प्राथमिक में तैनात सहायक अध्यापक परमेश के बारे में जब जानकारी ली गई तो बताया गया कि उनका अचरौरा शाहपुर के लिये स्थानान्तरण हो गया है, उनके बारे में सम्बन्धित विद्यालय में पता करने पर भी कोई सही जानकारी न मिल पाने के कारण जिलाधिकारी ने गहरी नाराजगी जताते हुये नौनिहालों को दी जाने वाली शिक्षा से खिलवाड़ करने के कारण जंहा प्राथमिक विद्यालय के सहायक अध्यापक प्रशान्त कुमार मिश्रा एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय के अध्यापक परमेश को नोटिस जारी कर निलम्बित करने का आदेश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिया गया है वंही बिना छुट्टी स्वीकृत कराये विद्यालय से नदारद हो जाने के कारण शिक्षा मित्र राजेश कुमार वर्मा एवं उपस्थित पंजिका में हाजिरी लगाकर घर चली जाने के कारण शिक्षामित्र अंजू देवी शर्मा से जवाब तलब किया गया है इसके साथ ही इस विद्यालय में आज मध्यान्ह भोजन भी नही बनाया गया था तथा बच्चों की उपस्थिति भी नामाकंन के सापेक्ष बहुत कम पाई गयी तथा साफ-सफाई भी संतोष जनक नही पाया गया. यंहा तक आंगनवाड़ी केन्द्र भी बन्द पाया गया इस लापरवाही के लिये सी0डी0पी0ओ0 एवं मुख्य सेविका से जवाब तलब किया गया है.

तदोपरान्त जिलाधिकारी ने मोटर साइकिल पर ही सवार होकर प्राथमिक/उच्च प्राथमिक विद्यालय धोबिहा जब पहुंचे तो यंहा का भी व्यवस्था देखकर वे हतप्रभ रह गये। यंहा पर शिक्षामित्र अम्बर लाल यादव उपस्थित पाये गये जबकि यंहा पर तैनात प्रभारी प्रधानाध्यापक अलका चैधरी एवं सहायक अध्यापक पवन गंगवार 07 अगस्त से विद्यालय नही आये हैं. बच्चों से जब जिलाधिकारी ने जानकारी ली तो बच्चों ने बताया कि मैडम कभी कभार आती हैं. इस पर जिलाधिकारी ने उपस्थित शिक्षामित्र से मैडम को काल कराकर जब बात की तो वे कोई संतोष जनक उत्तर नही दे पाई. यंहा पर भी बच्चों की पढ़ाई चैपट देखकर नाराज जिलाधिकारी ने प्रभारी प्रधानाध्यापक अलका चैधरी को नोटिस देकर निलम्बन का आदेश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिया है तथा वंही पर अनुपस्थित अध्यापक पवन गंगवार से भी जवाब तलब कर अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का निर्देश दिया है.

यंही पर संचालित उच्च प्राथमिक विद्यालय में अपरान्ह 12ः15 बजे ताला लटकने के कारण वंहा पर तैनात अध्यापकों का भी पूरा ब्यौरा लेकर उनके खिलाफ नोटिस जारी कर निलम्बन की कार्यवायी करने का निर्देश देने के साथ ही आगंनवाडी केन्द्र भी बन्द पाये जाने के कारण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी/जिला कार्यक्रम अधिकारी से इस अव्यवस्था के लिये रिपोर्ट तलब किया है. वंही ढंग से सुपरविजन न करने के कारण खण्ड शिक्षा अधिकारी अखिलेश यादव को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है। निरीक्षण के दौरान दोनो विद्यालयों में नामाकंन के अनुरूप बच्चों की उपस्थिति भी नही मिल पाई है जिस पर उन्होने गहरी नाराजगी जताई और दूरभाष पर ही जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को व्यवस्था ढंग से सुदृढ़ करने की हिदायद दी है.स्कूलों के औचक निरीक्षण के दौरान मोटर साइकिल से ही मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय एवं अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय ने भी साथ मौजूद रहे.

REPORT BY: Abdullah Khan

Ryan Reynold
Piyush Gupta is a writer based in India. When he's not writing about apps, marketing, or tech, you can probably catch him eating ice cream.

You may also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in Tech