Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू बाबा साहेब के संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : अजय कुमार लल्लू
Home / आवारा जानवर को पालने का नहीं मिला मुआवजा, तो पेड़ पर चढ़ गया युवक, पूरे तमाशे का LIVE वीडियो कैमरे में कैद, प्रशासन में मचा हड़कंप

आवारा जानवर को पालने का नहीं मिला मुआवजा, तो पेड़ पर चढ़ गया युवक, पूरे तमाशे का LIVE वीडियो कैमरे में कैद, प्रशासन में मचा हड़कंप

Report By: Abu Talha  बाराबंकी: आवारा जानवरों को पालने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से किए गए वादे के बाद पैसा नहीं दिए जाने से नाराज युवक बाराबंकी जिले के गन्ना संस्थान परिसर में पेड़ पर चढ़ गया। इसकी जानकारी होते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया और आनन-फानन पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस […]

Report By: Abu Talha 

बाराबंकीआवारा जानवरों को पालने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से किए गए वादे के बाद पैसा नहीं दिए जाने से नाराज युवक बाराबंकी जिले के गन्ना संस्थान परिसर में पेड़ पर चढ़ गया। इसकी जानकारी होते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया और आनन-फानन पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद समझा बुझाकर युवक को पेड़ से नीचे उतारा।

मामला फतेहपुर तहसील के विकास खंड निंदूरा के गांव हसवांपारा निवासी इरफान से जुड़ा है। जो बाराबंकी जिला मुख्यलाय आकर गन्ना संस्थान परिसर में एक ऊंचे पेड़ पर चढ़ गया। इरफान के मुताबिक गांव में छुट्टा मवेशियों की समस्या को देखते हुए एसडीएम ने कहा था कि वह आवारा जानवरों को अपने यहां बांधे। इसके एवज में उसे 30 रुपये प्रति मवेशी प्रतिदिन के हिसाब से उसे दिया जाएगा। इस पर उसने सभी ग्रामीणों से कहकर अपने यहां मवेशी बंधवा लिए। लेकिन अब उसकी पैसों की मांग नहीं मानी जा रही है। वह आजिज आ चुका है। इसलिये वह पेड़ से कूद जाएगा। यह सुनते ही वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मान मनौव्वल कर इरफान को पेड़ से उतारा।

पीड़ित इरफान ने बताया कि ब्लॉक द्वारा आर्थिक मदद मिलने की उम्मीद में लोगों से आर्थिक सहयोग लेकर मवेशियों के लिए चारे पानी की व्यवस्था की। मजदूर भी लगाए। कई बार इसकी सूचना बीडीओ को दी लेकिन वह नहीं आए। अब विभाग द्वारा पैसा नहीं दिया जा रहा है। पीड़ित ने बताया कि मजदूरों का पैसा व चारे के लिए उधार लिया गया पैसा कहां से लाएगा।

तमाशे का LIVE वीडियो कैमरे में कैद

वहीं इरफान के पेड़ पर चढ़ने की खबर मिलते ही बीडीओ मुनेश चंद्र मौके पर पहुंचे और उसे समझा बुझाकर नीचे उतारा। बीडीओ के मुताबिक इरफान उनके पास एक महीने बाद आए हैं। मामले की जांच की जाएगी। अगर जानवर आवारा होंगे तो उन्हें पास की गौशाला में भिजवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि जानकारी मिल रही है कि इरफान ने लोगों के पालतू जानवर पैसे देकर अपने पास बांध लिये हैं। अगर जांच में ऐसा निकला तो सारे जानवर उनके मालिकों को वापस किये जाएंगे।

मुनेश चंद्र, बीडीओ