Latest News Kanpur: 32 साल पहले पाकिस्तान से भारत आया परिवार, पहचान छिपाई, घर भी बना लिया और मिल गई सरकारी नौकरी , अब कोर्ट ने लिया संज्ञान Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल योगी सरकार का ‘आगरा मॉडल’ हुआ ध्वस्त,मेरठ और कानपुर भी आगरा बनने की राह पर: अजय कुमार लल्लू
Home / सरकार में योग्यता की कमी है, चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार- मायावती

सरकार में योग्यता की कमी है, चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार- मायावती

पीएम मोदी के मंत्री के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान बताया सरकार में योग्यता की कमी है, चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार बेरोजगारी के मुद्दे पर बयान देकर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार घिरते जा रहे हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती और आम […]

  • पीएम मोदी के मंत्री के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान बताया
  • सरकार में योग्यता की कमी है, चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार

बेरोजगारी के मुद्दे पर बयान देकर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार घिरते जा रहे हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती और आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने संतोष गंगवार पर निशाना साधा है.

मायावती ने कहा कि देश में छाई आर्थिक मंदी आदि की गंभीर समस्या के संबंध में केंद्रीय मंत्रियों के अलग-अलग हास्यास्पद बयानों के बाद अब देश व खासकर उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने के बजाए यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं बल्कि योग्यता की कमी है, अति-शर्मनाक है जिसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए.

चौपट इकॉनोमी का जिम्मेदार कौन

वहीं संजय सिंह ने मोदी के मंत्री के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान बताया है.

उन्होंने कहा कि इस सरकार में ही योग्यता की कमी है. मंत्री बताएं कि चौपट अर्थव्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार है.

संजय सिंह ने कहा कि संतोष गंगवार खुद ही उत्तर भारत से आते हैं. इस तरह के बयान का क्या मतलब है. 

असल में, केंद्र की मोदी सरकार के 100 दिन पर शनिवार को बरेली में संतोष गंगवार सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में रोजगार और नौकरियों की कोई कमी नहीं है.

क्या था गंगवार का बयान

संतोष गंगवार ने कहा कि हमारे उत्तर प्रदेश में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं उस क्वालिटी का व्यक्ति हमें नहीं मिल रहा है. कमी है तो योग्य लोगों की.

मंत्री का कहना है कि हम इसी मंत्रालय को देखने का काम करते हैं. इसलिए मुझे जानकारी है कि देश में रोजगार की कोई कमी नहीं है. रोजगार बहुत है.

रोजगार दफ्तर के आलावा हमारा मंत्रालय भी इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है.

रोजगार की कोई समस्या नहीं है बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है.

मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है.