इस बच्चे ने अपने ही पिता को लगाई 30 हजार रुपये की बड़ी चपत, जानिए मामला

लखनऊ करीब आठ साल के बेटे को बाइक देकर दूध घर-घर भिजवाना पिता को महंगा पड़ गया। बच्चे के बाइक चलाने का वीडियो वायरल होते ही हरकत में आई पुलिस ने 30 हजार रुपये का ई-चालान कर दिया। नए वाहन अधिनियम में नाबालिग के वाहन चलाने पर अभिभावक या गाड़ी मालिक पर कम से कम 25 हजार रुपये का चालान है। इसके अलावा तीन माह की सजा भी अभियुक्त हो सकती है। बाइक काकोरी के एक दूध कारोबारी के नाम रजिस्टर्ड है। 

काकोरी निवासी ऋषभ सिंह नाम के युवक ने बच्चे का वीडियो बनाकर सीएम से लेकर आला पुलिस अधिकारियों को टैग करके ट्वीट कर कर दिया। वीडियो का संज्ञान डीजीपी ओपी सिंह ने ले लिया, जिसके बाद लखनऊ पुलिस सक्रिय हो गई। पुलिस बाइक मालिक की तलाश में जुट गई। एसपी यातायात ने बाइक नंबर के आधार पर ई-चालन कर दिया।  

एसपी ट्रैफिक पूर्णेंदु सिंह के मुताबिक मंगलवार शाम को वीडियो ट्वीट किया गया। बाइक नंबर के आधार पर मौजूदा चालान प्रक्रिया के तहत 11500 रुपये का शमन शुल्क तय करते हुए चालान काटा गया है। संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के तहत नाबालिग के बाइक चलाने और अभिभावक को बाइक देने की भी धारा लगाई गई है। इसका निस्तारण कोर्ट करेगा, जिसमें तीस हजार जुर्माना व सजा का भी प्रावधान है। नाबालिग के बाइक चलाने के चलते जेजे कोर्ट को इसकी आख्या भेजी जाएगी। 

अहम है कि पिछले दिनों भी इसी तरह एक होटल की कार का फर्राटा भरते वीडियो ट्वीट होने पर 18 हजार के करीब का चालान हुआ था। यह कार एक अभिनेता के वाहन को स्कॉट कर रही थी

206 Post Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

चेतगंज डबल मर्डर की गुत्थी सुलझी, जिसको समझा गया वफादार, वही निकला...

Thu Sep 26 , 2019
वाराणसी। बीते 21 सितम्बर को चेतगंज थाने के कालीमहाल इलाके में हुए डबल मर्डर में नामजद गाज़ीपुर के करंडा निवासी रामविचार को उसके पुत्र के साथ चेतगंज पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली। पकड़ा गया नामजद मृतक के छोटे भाई और घटना के मुख्य अभियुक्त राजेंद्र उपाध्याय […]
the republic india


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media