आप के पार्षद ताहिर हुसैन को बचाने के लिए ‘आप’ ने लगाया पूरा दमखम

दिल्ली हिंसा में आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा की भी मौत हो गई है, जिनका शव बुधवार को बरामद हुआ। अंकित की हत्या का आरोप ताहिर हुसैन पर लग रहा है। इसी बीच उनके घर से गुलेल, पेट्रोल बम और कट्टों और ट्रे में भरे मोटे पत्थर बरामद किए गए हैं, जिन्होंने ताहिर हुसैन की मुसीबत और बढ़ा दी है।

नई दिल्ली
नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के खजूरी में हिंसा भड़काने में आप पार्षदताहिर हुसैन का हाथ था? अब उनके घर से आई कुछ तस्वीरों से शक की सूई और गहरा गई है। ताहिर हुसैन के घर से गुलेल पेट्रोल बम और कट्टों और ट्रे में भरे मोटे पत्थर बरामद किए गए हैं। इसी घर का एक विडियो भी पहले सामने आया था, जिसमें वहां से लगातार पत्थर और पेट्रोल बम चल रहे थे। आईबी स्टाफ अंकित शर्मा के मर्डर के पीछे भी परिवार इस घर की छत पर मौजूद लोगों को जिम्मेदार ठहरा रहा है। हालांकि, आप पार्षद ताहिर खुद को बेकसूर बता रहे हैं। आम आदमी पार्टी ताहिर हुसैन के बचाव में उतरी है और इस मामले में निष्पक्ष जांच की मांग कर रही है।

छत पर पड़े मिले पत्थर-पेट्रोल बम
अब माहौल शांत होने के बाद जब कुछ मीडियाकर्मी उस घर की छतपर पहुंचे तो नजारा दिखा। घर की छत पर पत्थर ही पत्थर दिखे। वहां कुछ पत्थरों का चूरा भी था, जैसे वहां मोटे पत्थरों को कूटकर छोटा किया गया हो। साथ ही वहीं एक बड़ी सी गुलेल भी पड़ी थी। इसके अलावा कोल्ड ड्रिंक की बोतलों में पट्रोल भरा मिला है, जिनपर कपड़ा लगाकर उनसे बम बनाने की कोशिश हुई है। इसके अलावा कई कट्टे, बोरियां मिलीं, जिनमें से कुछ में पत्थर भी थे।

ताहिर का जवाब- किसने फेंके बम, पता नहीं
इस मामले में ताहिर अबतक खुद को बेकसूर बता रहे हैं। उनका कहना है कि हिंसा के वक्त वह घर में मौजूद ही नहीं थे। पुलिस ने उन्हें पहले ही वहां से निकाल दिया था। वह बोले कि मेरे घर से कौन बम फेंक रहा था पता नहीं। उन्होंने यह भी दावा किया कि सामने वाले घरों से भी उनके घर की तरफ पत्थर चल रहे थे।

पार्षद के बचाव में उतरी आम पार्टी
आम आदमी पार्टी अपने पार्षद ताहिर के बचाव में उतर गई है। AAP ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ताहिर के घर पर आठ घंटे बाद पहुंची थी। इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। आप नेता संजय सिंह ने कहा, ‘ताहिर हुसैन का सवाल है, उन्होंने बयान जारी किया। उनके घर के अंदर भीड़ घुसी, तो पुलिस को जानकारी दी। लगातार अपने को बचाने के लिए पुलिस से मदद मांगी। पुलिस आठ घंटे बाद पहुंची और पुलिस ने उन्हें निकाला। कहीं कोई दोषी हो, तो आप कार्रवाई कीजिए। ताहिर हुसैन का बयान है कि उनके घर में भीड़ घुसी थी। पत्थर क्यों थे, इस पर कहा कि पुलिस के अधिकारी ही यह बता सकते हैं। वह तो दो दिन से घर में है ही नहीं, पुलिस ने निकाला है।’

263 Post Views

Shivendra TRI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यूपी के भी इन हिस्सों में लागू हुई धारा 144, जानिए कहींआपका भी शहर तो नहीं

Thu Feb 27 , 2020
लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दिल्ली में भड़की हिंसा से उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भी सतर्क हो गई है। बीते दिनों प्रदेश में सीएए को लेकर हुए हिंसक प्रदर्शन और तोड़फोड़ में नामजद लोगों के साथ-साथ उनके दूसरे साथियों पर भी पैनी नजर रखी जा रही है। दोबारा […]
यूपी के भी इन हिस्सों में लागू हुई धारा 144, जानिए कहींआपका भी शहर तो नहीं


The Republic India News Group Websites:

Hindi News     English News    Corporate Wesbite    

Social Media