आज अपने दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर जायेंगे यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को गोरखपुर आ रहे हैं। गोरखपुर में उनका आगमन दोपहर 1:55 बजे होगा। मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर में 12 सितंबर से आयोजित होने वाले ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ एवं ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के साप्ताहिक जयंती-पुण्यतिथि समारोह की पूर्व संध्या पर बुधवार को दोपहर 2:30 बजे से शुरू होने वाले श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान-यज्ञ की शोभायात्रा में शामिल होंगे। बुधवार को गोरखनाथ मंदिर में रात्रि विश्राम के बाद वह गुरुवार की सुबह 10:30 बजे से मंदिर परिसर के दिग्विजयनाथ स्मृति सभागार में आयोजित होने वाले जयंती-पुण्यतिथि समारोह के उद्घाटन सत्र और संगोष्ठी की अध्यक्षता करेंगे। दोपहर  2:20 बजे के बाद मुख्यमंत्री लखनऊ रवाना हो जाएंगे।

मुख्यमंत्री की मौजूदगी में होगा श्रीमद्भागवत कथा का शुभारंभ

ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ की 125वीं जयंती व 50वीं पुण्यतिथि और महंत अवेद्यनाथ की जन्मशताब्दी व 5वीं पुण्यतिथि समारोह की पूर्व संध्या पर बुधवार को गोरखनाथ मंदिर में श्रीमद्भागवत महापुराण कथा ज्ञान-यज्ञ का का शुभारंभ होगा। सात दिन चलने वाले इस कथा यज्ञ से पहले भव्य शोभा यात्रा निकाली जाएगी, जिसकी अगुवाई बतौर गोरक्षपीठाधीश्वर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। दोपहर 2.30 बजे से निकलने वाली शोभायात्रा में मुख्यमंत्री योगी के साथ कथाव्यास स्वामी राघवाचार्य, महंत सुरेशदास, महंत राममिलन दास, महंत प्रेमदास, महंत रामनाथ, महंत मिथिलेश नाथ आदि संतों की मौजूदगी महत्वपूर्ण होगी।

शाम तक चलेगी कथा

मंदिर के प्रधान पुजारी कमल नाथ ने बताया कि कथा को समसामयिक राष्ट्रीय-सामाजिक मुद्दों से जोड़ कर कथाव्यास ब्रह्मलीन महंत दिग्विजय नाथ व अवेद्यनाथ के विचारों और इच्छाओं को जन-जन तक पहुंचाएंगे। धर्म-संस्कृति की रक्षा के लिए राजधर्म का वह संदेश भी कथा में गूंजेगा, जो भारत की ऋषि परंपरा से प्राचीन काल में मिलता रहा है। कथा व्यास स्वामी राघवाचार्य भागवत कथा के विविध पात्रों के माध्यम से लोगों को परिवार, समाज, राष्ट्र के प्रति दायित्व बोध को अहसास कराएंगे। कथा शोभा यात्रा के बाद शाम तीन बजे से शुरू होकर छह बजे तक चलेगी। कथा के यजमानों की सूची में महंत रवींद्र दास, ईश्वर मिश्र, मेयर सीताराम जायसवाल, जवाहर कसौधन, पुष्पदंत जैन, ओमप्रकाश जालान, चंद्र प्रकाश अग्रवाल, गंगा सागर राय, अरुण अग्रवाल उर्फ लाला, विकास जालान, महेश पोद्दार, जितेंद्र बहादुर चन्द, महेंद्र पाल सिंह, गोरख सिंह, ओमप्रकाश कर्मचंदानी, रेवती रमण दास, अतुल सर्राफ, मृत्युंजय सिंह शामिल हैं।

श्रद्धालुओं के लिए पांच मार्गों पर चलेगी बस

श्रीमद्भागवत महापुराण की कथा सुनने के लिए श्रद्धालुओं को आने में किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसके लिए गोरखनाथ मंदिर प्रबंधन की ओर से पांच मार्गों पर मुफ्त बस की व्यवस्था की गई है। यह बसें दोपहर बाद दो बजे से चलेंगी।

पहला मार्ग : लालडिग्गी पार्क-बाबा चैन सिंह मंदिर-इलाहीबाग-सूर्यकुंड ओवरब्रिज-रामलीला मैदान-अंधियारीबाग होते हुए गोरखनाथ मन्दिर।

दूसरा मार्ग : मुंशी प्रेमचंद पार्क-टीडीएम तिराहा-रीड्स साहब धर्मशाला-शास्त्रीचौक-गोलघर-धर्मशाला होते हुए गोरखनाथ मंदिर।

तीसरा मार्ग : इंजीनियरिंग कालेज-गिरधरगंज-छात्रसंघ चौराहा-विश्वविद्यालय चौराहा-रेलवे स्टेशन महाराणा प्रताप तिराहा होते हुए गोरखनाथ मंदिर।

चौथा मार्ग : गीतावाटिका-धर्मपुर तिराहा-पादरीबाजार पुलिस चौकी-खजांची चौराहा-स्पोट्र्स कालेज-राणी सती मंदिर-जंगल नकहा ओवरब्रिज-रामनगर चौराहा होते हुए गोरखनाथ मंदिर।

पांचवां मार्ग :  महेसरा-बरगदवा-राजेंद्रनगर होते हुए गोरखनाथ मंदिर।

गुरुवार से होगा जयंती-पुण्यतिथि समारोह का आगाज

ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ की 125वीं जयंती व 50वीं पुण्यतिथि और महंत अवेद्यनाथ की जन्मशताब्दी व 5वीं पुण्यतिथि समारोह का आगाज गुरुवार यानी 12 सितंबर से होगा। सात दिन के इस आयोजन के पहले दिन सुबह 10:30 बजे  ‘राष्ट्रीय पुनर्जागरण यज्ञ एवं सन्त समाज’ विषय संगोष्ठी आयोजित होगी, जिसको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी संबोधित करेंगे। संगोष्ठी का आयोजन स्थल गोरखनाथ मंदिर का दिग्विजयनाथ सभागार होगा। पहले दिन की संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के तौर पर जगद्ग़ुरु स्वामी डॉ.श्यामदास एवं मुख्य वक्ता के तौर पर अखिल भारतीय इतिहास संकलन योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो.सतीश चंद्र मित्तल की मौजूदगी रहेगी। संगोष्ठी में विशिष्ट वक्ता के तौर पर पूर्व कुलपति प्रो.रामअचल सिंह का व्याख्यान भी होगा।

124 Post Views

alok singh jadaun

Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महिलाओं के साथ खुद कचरा छांट रहे पीएम मोदी

Wed Sep 11 , 2019
मथुरा | यूपी के मथुरा पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने दुधारू पशुओं को गंभीर बीमारियों से मुक्त कराने के लिए तैयार की गई 13,500 करोड़ की टीकाकरण योजना का शुभारम्भ किया. पीएम ने यहां कार्यक्रम की शुरुआत गोसेवा से की. कचरा प्रबंधन से जुड़ी महिलाओं के साथ खुद कचरा छांटकर […]

Breaking News