Latest News Weekly lockdown: यूपी में संडे को वीकली लॉकडाउन, कोरोना पर योगी के 10 बड़े निर्देश घर जाने का इंतजार कर रहे प्रवासियों के लिए राहत भरी की खबर… ये हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित साइबर वॉरियर, जानें CQ-100 में कौन-कौन हैं शामिल क्या आप या आपके नेटवर्क में है कोई Cyber Expert? इन 5 कैटिगरी में हो रहा है ऑल इंडिया ऑनलाइन सर्वे, आज ही करें नॉमिनेशन अफसरों की ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने के नाम पर पैसे ऐठने वाले कथित पत्रकार को एसटीएफ़ ने किया गिरफ्तार
Home / आटा मील में काम रहे रहे श्रमिक की करंट लगने से मौत, मुआवजे की मांग को लेकर चौराहा किया जाम

आटा मील में काम रहे रहे श्रमिक की करंट लगने से मौत, मुआवजे की मांग को लेकर चौराहा किया जाम

शुक्लागंज, उन्नाव। बुधवार रात सहजनी स्थित एक आटा मील में काम रहे रहे श्रमिक की करंट लगने से मौत हो गई। मील मालिक ने बिना परिजनों को सूचना दिए उसे जिला अस्पताल ले गए। जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। श्रमिक का पीएम होने के बाद उसका शव घर लाया गया। जिसके बाद परिजनों […]

शुक्लागंज, उन्नाव। बुधवार रात सहजनी स्थित एक आटा मील में काम रहे रहे श्रमिक की करंट लगने से मौत हो गई। मील मालिक ने बिना परिजनों को सूचना दिए उसे जिला अस्पताल ले गए। जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। श्रमिक का पीएम होने के बाद उसका शव घर लाया गया। जिसके बाद परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर सहजनी चैराहा जाम कर दिया। जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह परिजनों को समझाया और जाम हटवाया।


उन्नाव कोतवाली के मगरवारा चैकी के अंतर्गत जगतखेड़ा के रूपनी खेड़ा गांव निवासी राम केवल उर्फ लल्ला चैहान सहजनी स्थित एक आटा मील में पदं्रह सालों से करता था। बुधवार देर रात मील में काम कर रहा था, तभी वह करंट की चपेट में आ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आनन फानन मील मालिक उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले गए। जहां डाॅक्टरांे ने उसे मृत घोषित कर दिया। श्रमिक की मौत पर उसके घर में कोहराम मच गया। गुरूवार शाम पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर सहजनी चैराहे पर पहुंचे और शव सड़क पर रख कर शुक्लागंज उन्नाव मार्ग पर जाम लगा दिया। पांच लाख रूपए मुआवजा की मांग करते हुए हंगामा काटने लगे। मृतक के बड़े भाई कल्लू ने आरोप लगाया कि करंट लगने से भाई की मौके पर ही मौत हो गई थी। इसके बावजूद मील मालिकों ने उसे सूचना नहीं दी और उन्नाव जिला अस्पताल ले गए। जबकि वह चैराहे पर अपनी चाय की दुकान पर मौजूद था। सूचना पर पहुंचे गंगाघाट इंस्पेक्टर और क्षेत्रीय दरोगा विनोद सरोज ने गुस्साएं लोगों को समझा बुझा कर शांत कराया और जाम हटवाया। मृतक के पत्नी श्रीदेवी, बच्चे संजना (9), शिवा का रो रो कर बुरा हाल हो गया।